बैल पूजा से जुडा़ है जाच्छ काण्डा का शकूरा देवोत्सव

डा. हिमेन्द्र बाली “हिम”, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। सुकेत की प्राचीन राजधानी पांगणा के पर्वोत्तर में जाच्छ-चरखड़ी सड़क पर छोल गढ़ के अंचल में  काण्डा नामक स्थान पर नृसिंह भगवान का मंदिर सम्पूर्ण मण्डी-सुकेत क्षेत्र में पशु धन वृद्धि, रोग निवारण, भूत बाधा निवारण और फसलों की वृद्धि के लिए विख्यात है। नाचन निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत इस गांव का सांस्कृतिक परिदृश्य सनातन परम्परा का जीवंत उदाहरण है। काण्डा गांव में नृसिंह भगवान का पैगोडा मण्डपीय शैली का मंदिर बना है। मंदिर के समीपस्थ नृसिंह भगवान के वृषभ रूप गण…