जीवन लगता मधुशाला

डॉ.ममता बनर्जी “मंजरी”, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। नीले अम्बर पर है छायी,     श्वेत धवल सी घन माला ।        स्वागत गाना रजनी गाती,              पूनम शरद चंद्र आला।। कामदेव के प्रणय-वाण ने,      ऐसा जादू कर डाला।         नृत्य करे धिन ता-ता थैया,            सुध-बुध खोकर मधुबाला। कास जवास धरा पे झूमे,      मानो पीकर मधु हाला।        कमल कुमुदिनी जल में शोभे,              …

छवि

डॉ. ममता बनर्जी “मंजरी”, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। मानव योगी,मानव भोगी, मानव ईश समान हैं। मानव सज्जन-दुर्जन,हिंसक, मूरख अरु विद्वान हैं। सामाजिक प्राणी है मानव, धार्मिक निष्ठावान भी। कामी-पापी, अत्याचारी, अधम और हैवान भी। मानव चाहे जैसा भी हो, ईश्वर की संतान हैं। ईश्वर के पावन नजरों में, मानवजाति समान हैं। कर्म मुताबिक फल है मिलता, मानव को निश्चित यही। तय करना है मानव को ही, क्या गलत और क्या सही।। कर्म सतत करता है मानव, इस व्यापक संसार में। तन-मन-वाणी के माध्यम से, रत रहता संसार में। कर्म करो…

एफसीआई व डीएसओ ने की ग़रीब कल्याण राशन योजना के सम्बन्ध में बैठक

कार्तिक कुमार परिच्छा, सरायकेला (झारखंड)। अनुमंडल पदाधिकारी सह अतिरिक्त प्रभार जिला आपूर्ति पदाधिकारी राम कृष्ण कुमार एवं जिला प्रबंधक झारखण्ड राज्य खाद्य निगम चाईबासा अमित कुमार के उपस्थिति में आयोजित हुई खाद्यान्न उठाव एवं वितरण की बैठक में सभी एमओ, दसद एवं आगमन से सम्बंधित पदाधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में जिला आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री द्वारा घोषित मुफ्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना एवं सामान्य एनएफएसए खद्यान के उठाव एवं ससमय वितरण से संबंधित सभी एमओ, डीएसडी एवं एजीएम को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। इस दौरान जिला प्रबंधक झारखंड राज्य…

सरायकेला जिले में 12641 किसानों का कर्ज होगा माफ

कार्तिक कुमार परिच्छा, सरायकेला (झारखंड)। किसान कर्ज माफी योजना के तहत सरायकेला खरसावां जिले में 48 करोड़ 2लाख रूपये के कर्ज माफ किये जायेगें। इस बाबत जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से जिलाध्यक्ष छोटराय किस्कु ने इसकी जानकारी मिडिया को दी। जिलाध्यक्ष किस्कु ने बताया कि किसान कर्ज माफी योजना के तहत 12641 किसानों  को इसका सीधा लाभ मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत किसानों के द्वारा लिया गया 50000 रूपये तक का ऋण सरकार द्वारा माफ होने जा रहा है। इस योजना का लाभ केवल वही किसान उठा सकते हैं,…

छवि

डॉ. ममता बनर्जी “मंजरी”, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। मानव काया मोक्ष-द्वार है, परम साधनागार भी। जीवन दुखमय यही बनाए, करे यही उद्धार भी। जीवन सुख-दुख का सम्मिश्रण, धूप-छाँव का खेल है। दीपक उतनी देर जलेगा, जितना उसमें तेल है।। मानव जीवन पथ का राही, मंजिल उसका लक्ष्य है। चले झेलकर बाधाएँ जो, निश्चित वही सदक्ष है। लक्ष्य साधकर चलता मानव, पाने को सुख-संपदा। यही दुःख का कारण बनकर, मानव पर हँसता सदा। रे मूरख ! यह लक्ष्य गलत है, सही लक्ष्य सद-ज्ञान है। सद-ज्ञान लब्ध करनेवाला, पाता जग में मान…

छवि

डॉ. ममता बनर्जी “मंजरी”, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। उगते-डूबते हुए सूरज, सतरंगी किरणें लिए। अंबर पे मुस्काता चंदा, मनमोहक सूरत लिए। शीश उठाए पर्वत नाना, शीतल वायु मनोहरा। सुरभित पुष्पित बाग-बगीचे, मनमोहिनी वसुंधरा।। उमड़-घुमड़ते बादल नभ पे, गर्जन-वर्षण दामिनी। मनभावन ऋतुएँ उपकारी, शुभ दिवस और यामिनी। पंचभूत से निर्मित काया, ईश्वर का वरदान है। जुड़ा हुआ यह आठ प्रकृति से, प्राणी की पहचान है।। किसकी है यह नश्वर काया, प्रश्न जटिल है यह बड़ा। जाननहार छिपे बैठे हैं, उलझन में मानव पड़ा। ‘मेरी काया” मानव कहता, बिन जाने वह कौन…

छवि

डॉ. ममता बनर्जी “मंजरी, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। मनु-श्रद्धा महामिलन गाथा, शुचि कल्पना ‘प्रसाद’ की। प्रश्न भिन्न हैं प्रथम-पुरुष पर, किसने भू आबाद की ? विविध धर्मग्रंथों का वंदन, अभिनंदन विज्ञान का। प्रथम-पुरुष को नमन हमारा, स्वागत मनुज महान का।। चरण-कमल वंदन उस माँ की, जन्म हमें जिसने दिया। नमन निवेदन परम पिता को, देखभाल जिसने किया। कोटिशः नमन उस चेतन को, जो अव्यक्त अशेष हैं। सत्यं शिवम सुंदरम जो, अविनाशी सर्वेश है। नमन करूँ उनको जो कहते, सृष्टिचक्र गतिमान है। नमन उन्हें जो कहे सृष्टि को, सीधी रेख समान…

प्रकृति व पर्यावरण से जुड़ा ओडिया तथा मुलवासी समुदाय का तीन दिवसीय रजो पर्व संपन्न

कार्तिक कुमार परिच्छा, सरायकेला ( झारखण्ड)। तीन दिनों तक चलने वाला धरती देवी प्रकृति व पर्यावरण के साथ जूडा ओडिया समुदाय तथा मुलवासी समुदायों का महत्वपूर्ण पर्व रजो आज संपन्न हुआ। जेष्ठ संक्रांति को मनने वाला यह त्याहार मानव समुदाय में कुमारी कन्याओं के जरिए उस संस्कृति का बीजोरोपण करता है, जिस पर हमारा वेद से लेकर संस्कार निहित है। तमाम कृषक समाज का में यह पर्व मनाया है, चाहे वह झारखंड ओडिशा के खंडायत हो, कुरमी हो या कृषक। झारखंड में न केवल सरायकेला खरसावां, बल्कि समुचे सिंहभूम में…

पेट्रोल, डीजल एवं आवश्यक सामानों की मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेस कमेटी ने केंद्र सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया

कार्तिक कुमार परिच्छा, सरायकेला (झारखंड)। पेट्रोल, डीजल एवं आवश्यक सामानों की मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेस कमेटी द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। कांग्रेस कमेटी की तरफ से कहा गया है कि कोरोना महामारी एवं लोक डाउन से देश की जनता परेशानी में है, लेकिन पेट्रोल एवं डीजल की बढ़ती कीमतों से महंगाई चरम सीमा पर है, आम जनता त्राहिमाम कर रही है। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव के निर्देशानुसार जिला अध्यक्ष छोटेराय किस्कु के अगुवाई में  पेट्रोल एवं डीजल…