खाद्य विभाग की टीम ने लिए खाद्य सामग्रियों के नमूने

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के पत्र एवं जिलाधिकारी के आदेशों के अनुपालन में आगामी नवरात्रि, दशहरा पर्व के अवसर पर मिलावटी खाद्य पदार्थों पर प्राभावी रोकथाम हेतु विशेषकर सिंघाडे का आटा, कुट्टू का आटा व अन्य फलाहार की शुद्धता एवं गुणवत्ता सुनिश्चित कराये जाने व हानिकारक रसायनों द्वारा कृत्रिम रूप में पकाये गए फलों के भण्डार को प्रतिबन्धित करने के उद्देश्य हेतु मुख्य खादय सुरक्षा अधिकारी के नेतृत्व में खादय सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अन्तर्गत आज 16 अक्टूबर को चलाए गए अभियान में अभिहित अधिकारी, डाॅ0 चमन लाल के निर्देशन में मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी, विवेक कुमार के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा अधिकारी डाॅ0 अनिल कुमार कौशल, डाॅ0 विकास कुमार, अशोक कुमार, प्रेम कुमार त्रिपाठी, मोहित कुमार, राजीव कुमार, राकेश कुमार तथा कृष्ण कुमार व वारियाक्ष दीक्षित, सेनेटरी सुपरवाईजर की संयुक्त टीम द्वारा निर्माण स्थलों एवं विक्रय प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर जितेन्द्र अहिल्याबाई चैक से कुट्टू का आटा, जितेन्द्र अहिल्याबाई चैक से आलू चिप्स (यश ब्राण्ड), राकेश रूडकी रोड, निकट चन्द्रा सिनेमा से कुट्टू का आटा, नसीम पुत्र मेरठ रोड से मिश्रित दूध, हरेन्द्र सिंह मेरठ रोड से मिश्रित दूध, अरविन्द से खोया, अनिल कुमार जौली रोड से मिश्रित दूध, अजय कुमार पालपचेण्डा रोड से भैंस का दूध, विष्णु पचेण्डा रोड से मिश्रित दूध, मेहकार बुढाना से मीडियम फैट क्रीम, इसरार बुढाना मिश्रित दूध, अशोक कुमार बुढाना कुटटू का आटा, गुल्लू पुत्र बुढाना मिश्रित दूध का नमूना लिया। समस्त नमूनों को जांच हेतु राजकीय प्रयोगशाला भेजा गया।

Related posts

Leave a Comment