त्रिस्तरीय पंचायतों की निर्वाचक नामावलियों का वृहद् पुनरीक्षण के तहत घर-घर जाकर गणना और सर्वेक्षण 5 नवम्बर तक

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग उत्तर प्रदेश की अधिसूचना के द्वारा त्रिस्तरीय पंचायतों की निर्वाचक नामावलियों का वृहद् पुनरीक्षण कराये जाने हेतु समय सारिणी की घोषणा की गयी है, जिसके तहत 1 नवम्बर 2020 तक 18 वर्ष या अधिक की आयु प्राप्त करने वाले अर्ह व्यक्तियों का नाम सम्मिलित किया जाएगा।
अपर जिलाधिकारी प्रशसान ने बताया कि पुनरीक्षण कार्य के तहत बीएलओ द्वारा घर-घर जाकर गणना और सर्वेक्षण करने की अवधि 1 नवम्बर 2020 से 5 नवम्बर 2020 तक है। इस अवधि में बीएलओ सौपें गये क्षेत्र में मतदाता सूची की आधार प्रति लेकर घर-घर जायेगें एवं प्रत्येक घर में परिवार के मुखिया अथवा अन्य जिम्मेदार सदस्य से मिलकर निर्वाचक गणना कार्ड में 1नवम्बर 2020 को 18 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके नये सदस्यों के नाम परिवर्धन के रूप में , मृत हो चुके अथवा वहाॅं से शिफ्ट हो चुके सदस्यों के नाम विलोपन के रूप में एवं किसी सदस्य के नाम में संशोधन की प्रवष्टि गणना कार्ड में करेगें। बीएलओ द्वारा मतदान केन्द्र की आधारभूत सुविधा जैसे पेयजल, शौचालय, रैम्प, विद्युत व्यवस्था आदि एवं मतदान केन्द्र का फोटो एवं किये गये कार्य की साप्ताहिक सूचना तथा ई-बी0एल0ओ0 ऐप पर भरेगें। बी0एल0ओ0 एवं पर्यवेक्षकों के कार्यो की आकस्मिक जांच हेतु सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के साथ-साथ 18 जनपद स्तरीय अधिकारी लगाये गये है। निर्वाचक नामावली किसी भी निर्वाचन की आधारशिला होती है। यह नामावली जितनी अधिक शुद्ध होगी उतने ही निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं शान्तिपूर्ण निर्वाचन की अपेक्षा की जा सकती है। अतः यह अत्यन्त आवश्यक है कि निर्वाचक नामावली में ऐसे सभी व्यक्तियों के नाम सम्मिलित हों जो कानूनन मतदान के हकदार हैं और ऐसे किसी व्यक्ति का नाम सम्मिलित न हो जिसे यह अधिकार प्राप्त नहीं है। यह सैद्धान्तिक मन्त्र निर्वाचक नामावली को तैयार करने वाले प्रत्येक अधिकारी/कर्मचारी को व्यवहृत करना है। राज्य निर्वाचन आयोग,उत्तर प्रदेश , लखनऊ के निर्देशानुसार पुनरीक्षण कार्य मेहनत, ईमानदारी एवं निष्पक्षता से सम्पन्न कराने के निर्देश दिये। साथ ही यह भी निर्देश दिये गये कि पुनरीक्षण कार्य में लापरवाही एवं उदासीनता क्षम्य नही होगी एवं संज्ञान में आने पर सम्बन्धित बीएलओ एवं पर्यवेक्षको के विरूद्व कठोर कार्यवाही की जायेगी।
उक्त के क्रम मे जनसामान्य से अनुरोध है कि अपना और अपने परिवार के सभी अर्ह सदस्यों के नाम निर्वाचक नामावली में दर्ज हैं अथवा नहीं, की जाँच कर लें। यदि दर्ज नहीं है तो अवश्य दर्ज कराएं और इस हेतु घर पर पहुँचने वाले बी0एल0ओ0 को वाँछित सूचना दिए बिना कदापि वापस न करें। यदि आप के अथवा आप के परिवार के किसी नाम व प्रविष्टि में कोई संशोधन होना है या किसी नाम व प्रविष्टि को विलोपित किया जाना है तो उसे घर पर पहुँचने वाले बी0एल0ओ0 को अवश्य अवगत करा दें।

Related posts

Leave a Comment