श्रीराम काॅलेज के बेसिक साइंस विभाग में प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुज़फ्फरनगर। श्रीराम काॅलेज के बेसिक साइंस विभाग में पर्यावरण विषय पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें बीएससी के विद्यार्थियों ने बढ-चढ कर हिस्सा लिया। प्रतियोगिता के मुख्य अतिथि श्रीराम काॅलेज के निदेशक डा0 आदित्य गौतम तथा डीन एकेडमिक्स डा0 विनीत कुमार शर्मा रहे। प्रतियोगिता का शुभारम्भ करते हुए बेसिक साइंस की विभागाध्यक्ष डा0 पूजा तोमर द्वारा अतिथियों का विद्यार्थियों से परिचय कराया गया तथा विद्यार्थियों को प्रतियोगिता के नियमों से अवगत कराया। महाविद्यालय के निदेशक डा0 आदित्य गौतम ने प्रतिभागियों का उत्साहवर्द्धन किया।
डा0 राहुल आर्य ने बताया कि प्रतियोगिता में 6 टीमों ने प्रतिभाग किया। प्रत्येक टीम में तीन-तीन विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में विद्यार्थियों से पर्यावरण संबंधित प्रश्न जैसे कि पर्यावरण की कितने परते है? ओजोन परत कहा स्थित है? पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है? ग्रीन हाऊस प्रभाव क्या होता है आदि पूछे गये।  प्रश्नोत्तरी के बाद 3 टीमों को प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली टीम में स्मिता त्यागी, शालू व श्रुति, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली टीम में स्वाति सैनी, आकांक्षा पॅवार व बिटटू कुमार तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीम में अंकित कुमार, भाविक तथा मुबस्सिर अलवी शामिल रहें। प्रतियोगिता में निर्णायक मण्डल में डा0 मनोज मित्तल व डा0 रीतु पुण्डीर रहे। श्रीराम काॅलेज के निदेशक डा0 आदित्य गौतम, डीन एकेडमिक्स डा0 विनीत कुमार शर्मा व विभागाध्यक्ष डा. पूजा तोमर द्वारा विजयी टीमों को पुरस्कृत किया गया।


प्रतियोगिता के मुख्य अतिथि निदेशक श्रीराम काॅलेज डाॅ0 आदित्य गौतम ने विद्यार्थियों के जोश की सराहना करते हुए कहा कि इस प्रकार कि प्रश्न प्रतियोगितायें विद्यार्थियों की कौशलता एवं तर्क शक्ति को विकसित करने में सहायक होती है। इसके साथ ही जहां विद्यार्थी देश-विदेश, समाज एवं समाज से जुडे हर क्षेत्र की गतिविधियों से रूबरू होता है वही ऐसी प्रतियोगिताओं के माध्यम से विद्यार्थियों का आई0क्यू0 भी विकसित होता है। कार्यक्रम का संचालन डा0 राहुल आर्य द्वारा किया गया। प्रतियोगिता में ऋषभ भारद्वाज, राजदीप सहरावत, विवेक कुमार, अंजलि गोयल, आशीष कुमार, राहुल आदि का सहयोग सराहनीय रहा।

Related posts

Leave a Comment