श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन एंव नवीनीकरण का शुल्क 30 नवम्बर 2020 तक नहीं

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। सहायक श्रमायुक्त प्रतिभा तिवारी ने बताया है कि सचिव उ0प्र0 भवन एंव अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के आदेश द्वारा उत्तर प्रदेश भवन एंव अन्य सन्निर्माण कर्मकार (नियोजन तथा सेवा शर्त विनियमन) (पंचम संशोधन) नियमावली 2020 के नियम 276(2) एंव नियम 279 (3) द्वारा प्रदत्त शक्तियों के अनुसार यह आदेश जारी किया जाता है कि उ0प्र0 शासन चिकित्सा अनुभाग-5 के शासनादेश द्वारा सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश को कोविड 19 महामारी से प्रभावित होने की उदघोषणा के दृष्टिगत 30 नवम्बर 2020 तक या जब तक शासन द्वारा तत्संबध में अग्रेत्तर आदेश नहीं दिये जाते है, जो भी पहले हो तब तक सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश में श्रमिक पंजीयन हेतु आवेदक द्वारा रजिस्ट्रीकरण फीस स्वरूप कोई धनराशि संदेय नही होगी एंव लाभार्थी द्वारा कोई धनराशि अंशदान के रूप में संदेय विलम्ब शुल्क या शास्ति के रूप में संदेय नही होगी और ऐसी आपदा अवधि की सदस्यता तथा ऐसे लाभार्थी की सुविधाओं पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा और अंशदान देयता के दिनांक से ऐसी आपदा अवधि हेतु उसकी सदस्यता अवधि स्वतः विस्तारित हो जायेगी। अतः जनपद मुजफ्फरनगर में समस्त निर्माण श्रमिकों को अवगत कराया जाता है कि श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन एंव नवीनीकरण का शुल्क समाप्त कर दिया गया है। अतः निर्माण श्रमिक अधिक से अधिक संख्या में निःशुल्क अपना पंजीयन एंव नवीनीकरण अपने नजदीकी सी०एस०सी० सेन्टर से कराये एंव उ0प्र0 भवन एंव अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्र्तगत संचालित योजनाओं का लाभ उठा सकते है।

Related posts

Leave a Comment