राजपूत समाज की सभा में गरजे ठा. सुभाष चौहान, कहा- अब एकजुट होने का समय आ गया है

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जनपद के चरथावल कस्बा  स्थित ग्राम दूधली में मुकेश आर्य के आवास पर आयोजित राजपूत समाज की सभा की अध्यक्षता स्वास्थ्य विभाग के नामित सदस्य एवं मुजफ्फरनगर केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष ठाकुर सुभाष चौहान ने की। सभा में बतौर विशेष अतिथि ठाकुर नरेन्द्र मुखिया, ठाकुर ज़बर सिंह, बबली राणा दूधली एवं ठाकुर कुंवर पाल सिंह मुख्य रूप से मौजूद रहे। सभा का संचालन अखिल भारतीय हिन्दू शक्ति दल के राष्ट्रीय महासचिव ठा. अरुण प्रताप सिंह ने किया।सभा के आयोजक ठा.मुकेश आर्य एवं राकेश पुंडीर ने सभा के मुख्य अतिथि ठा. सुभाष चौहान को तलवार एवं पगड़ी पहना कर राजपूत समाज की ओर से सम्मानित किया। सभा में क्षेत्र के सभी राजपूत समाज के सम्मानित लोगों ने भाग लिया।
सभा के अध्यक्ष ठाकुर सुभाष चौहान ने अपने सम्बोधन में कहा कि राजपूत समाज का इतिहास हमेशा से शौर्य, बल एवं साहस के साथ दया, दान, धर्म के भाव का रहा है। उन्होंने कहा कि इसलिए जब राजपूत समाज एकजुट होकर कहीं खड़ा हो जाता है तो लोग भयभीत नहीं होते, बल्कि लोग अपने को सुरक्षित महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि राजपूत समाज ही एक ऐसा समाज है, जो अपने स्वार्थ की लड़ाई ना लड़कर अन्याय के खिलाफ खड़ा होता है। सुभाष चौहान ने कहा की इस बार जो परिसीमन किया गया है, वह एक सोची समझी रणनीति है। राजपूत समाज इसका विरोध करता है। उन्होने कहा कि चुनाव में इसका असर देखने को मिलेगा।
उन्होने कहा कि अब समय आ गया है जब जनपद में भी राजपूत समाज को एकजुट होकर समाज को एक मिसाल पेश करनी चाहिए। ठाकुर सुभाष चौहान ने कहा कि जनपद में राजपूतों की संख्या अच्छी खासी है, जो विशेष महत्व रखती है। सुभाष चौहान ने कहा कि वह अपने क्षत्रिय समाज की सेवा में 24 घंटे हर प्रकार से तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अपने समाज के उत्थान के लिए हम सबको मिलकर अपने समाज की भलाई के लिए कार्य करना चाहिए, जिससे हमारी युवा पीढ़ी अपने आप को जनपद में उपेक्षित महसूस ना करें। इसके लिए उन्होंने अपने राजपूत समाज को हर प्रकार से सहयोग देने के लिए आश्वस्त किया।
सभा में कई गांवों से आये राजपूत समाज के लोगों ने परिसीमन का घोर विरोधी किया। सभा में पंकज ठाकुर, अंकुर राणा, दिव्य प्रताप राणा, सौरभ पुण्डीर, ठा. मुकेश सोम, ठा. दिवाकर विक्रम सिंह, नीरज सोलंकी, दीपक सोलंकी, ओमवीर भगत जी, बबली ठाकुर, अनिल ठाकुर, सतवीर ठाकुर, उमेश राणा, अंकित राणा, बिल्लू, पप्पन, मुकेश राणा, सुधीर राणा, श्यामवीर राणा, रामवीर, तेज़ सिंह, सुमन्त, जॉनी, सुधीर, मांगा, सचिन, सोहनवीर, कुलदीप, सोनू, सोमपाल, अजय, शक्ति, सचिन, विशाल, धर्मपाल सिंह आदि मुख्य रूप से  उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Comment