शहीद मंगल पांडे राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में नि:शुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मेरठ। मिशन शक्ति के अंतर्गत शहीद मंगल पांडे राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में मिशन शक्ति समिति के तत्वाधान में एक नि:शुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का उद्घाटन महाविद्यालय प्राचार्य प्रो. दिनेश चंद ने फीता काटकर किया। शिविर में नि:शुल्क परामर्श हेतु इंद्रप्रस्थ हॉस्पिटल से डा. हबीब अहमद, फ़िजीसीयन और डा. मयंक वर्मा ने छात्राओं की स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं को सुना और उनके उपचार हेतु परामर्श दिया। लगभग 50 छात्राओं और महाविद्यालय प्राध्यापकों ने इस शिविर में नि:शुल्क चिकित्सीय परामर्श प्राप्त कर लाभ उठाया। शिविर का आयोजन सारथी संस्था, मेरठ के सहयोग से किया गया, जिसमें सारथी संस्था की अध्यक्ष डा. कल्पना पांडे उपस्थित रहीं।
प्राचार्य  एवं नोडल अधिकारी मिशन शक्ति प्रो. डॉ दिनेश चंद्र ने छात्राओं से ऐसे आयोजनों से अधिकाधिक लाभ उठाने की अपील की। शिविर का संयोजन और संचालन मिशन शक्ति समन्वयक डा. लता कुमार ने किया। कार्यक्रम के आयोजन में  मिशन शक्ति सह-संयोजक डॉ. अनुजा गर्ग, डॉ. ममता सागर, डॉ. स्वर्णलता कदम, डॉ. भारती शर्मा, डा. पूनम भंडारी, डा. मंजु रानी, डा. कुमकुम, डा. विकास कुमार सहित डा. मोनिका चौधरी, डॉ. अलका चौधरी, डॉ. जितेंद्र कुमार, डॉ. राकेश कुमार, डॉ. राजकुमार सिंह, डॉ. अरविंद कुमार का विशेष सहयोग रहा ।

महिलाओं के लिए कानूनी प्रावधानों की भूमिका’ विषय पर एक दिवसीय वेबीनार आयोजित 

मिशन शक्ति के अंतर्गत शोध एवं प्रसार व्याख्यान माला समिति द्वारा ‘महिलाओं के लिए कानूनी प्रावधानों की भूमिका’ विषय पर एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य वक्ता सहायक अभियोजन अधिकारी अमरोहा उषा सिंह रही। कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय प्राचार्य प्रोफ़ेसर (डॉ.) दिनेश चंद्र ने की। कार्यक्रम का संचालन शोध एवं प्रसार व्याख्यान माला की संयोजक डॉ. मोनिका चौधरी के द्वारा किया गया। मुख्य वक्ता ने महाविद्यालय की छात्राओं को कानून से संबंधित अधिकारों की जानकारी दी तथा उन्होंने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहना चाहिए एवं सही दिशा में उनका प्रयोग करना चाहिए। उन्होंने छात्राओं को कुछ हेल्पलाइन नंबरों के बारे में भी बताया।
महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफ़ेसर (डॉ.) दिनेश चंद्र ने अपने उद्बोधन से सभी छात्राओं को बताया कि उन्हें कानून के प्रावधानों की जानकारी होनी चाहिए, तभी वह उसका सदुपयोग कर सकती हैं। उन्होंने छात्राओं का उत्साहवर्धन किया और सफल कार्यक्रम के लिए शुभकामनाएं दी। छात्राओं द्वारा मुख्य वक्ता से प्रश्न भी पूछे गए तथा महाविद्यालय की छात्राओं प्राची, साजिदा, सोना सैफी, आयशा, पूजा आदि ने फीडबैक दिया। महाविद्यालय की वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. लता कुमार ने अपने उद्बोधन से छात्राओं का मनोबल बढ़ाया तथा अधिकारों के प्रति सजग रहने को कहा। l कार्यक्रम की संयोजक डॉ. मोनिका चौधरी ने अंत में सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर डॉ. लता कुमार, डॉ. ममता सागर, डॉ. स्वर्ण लता कदम, डॉ. पूनम भंडारी, डॉ. अनीता गोस्वामी, डॉ. अलका चौधरी, डॉ. कुमकुम, डॉ. सुधारानी सिंह, डॉ. रामचंद्र सिंह, डॉ. उषा साहनी, डॉ. शालिनी वर्मा, डॉ. नीता सक्सेना, डॉ. सबीना परवीन आदि उपस्थित रहें।

समाजशास्त्र परिषद के तत्वावधान में कोलाज प्रतियोगिता आयोजित 

महाविद्यालय में विभागीय परिषद के अंतर्गत समाजशास्त्र परिषद के तत्वावधान में कोलाज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कोलाज का विषय था ‘ मिशन शक्ति के द्वारा महिला सशक्तिकरण’ । प्रतियोगिता में समाजशास्त्र की छात्राओं द्वारा विषय आधारित सुंदर कोलाज निर्मित किए गए। प्रतियोगिता प्रथम स्थान प्राप्त किया। मिशन शक्ति आधारित इस प्रतियोगिता में सारथी संस्था की अध्यक्ष डॉo कल्पना पांडे एवं मिशन शक्ति सदस्य डॉ o कुमकुम निर्णायक रही। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ दिनेश चंद ने  छात्राओं द्वारा निर्मित कोलाज का अवलोकन कर उनकी प्रशंसा की और छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह की प्रतियोगिताओं से रचनात्मकता विकसित होती है। समाजशास्त्र विभागाध्यक्ष  डॉo लता कुमार ने इस प्रतियोगिता का आयोजन किया। समाजशास्त्र विभाग से डॉo ममता सागर ने सहयोग किया।

Related posts

Leave a Comment