शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय के तत्वाधान में मिशन शक्ति पर एक दिवसीय वेबिनार आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मेरठ। उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण अभियान ‘मिशन शक्ति’ के अंतर्गत शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय द्वारा ‘मिशन शक्ति के द्वारा महिला सुरक्षा एवं कल्याण’ विषय पर एक एकदिवसीय वेबिनार का आयोजन किया गया। आयोजन के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी प्रो. राजीव कुमार गुप्ता रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य एवं नोडल अधिकारी-मिशन शक्ति प्रो. दिनेश चन्द की अध्यक्षता में कार्यक्रम का शुभारंभ संगीत विभाग की प्राध्यापक डॉ. शालिनी वर्मा के द्वारा सरस्वती वंदना से किया गया। वेबिनार संयोजक डा. लता कुमार ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।
शारीरिक शिक्षा विभाग प्रभारी डॉ भारती शर्मा ने वेबिनार की सूक्ष्म रूपरेखा व मिशन शक्ति की कार्य योजना से परिचित कराया। कार्यक्रम में आमंत्रित वक्ता, महिला वकील उर्वशी सिंह ने छात्राओं को महिला अधिकारों के प्रति जागरूक जागरूक किया और उन्हें महिलाओं के क़ानूनी अधिकारों से परिचित कराया।  महिला कल्याण विभाग की नेहा त्यागी ने कहा कि केवल लड़कियों ही नहीं लडको को भी महिला सुरक्षा के प्रति जागरूक करने की आवश्यकता है। आपने पीड़िता हेतु कौशल विकास प्रशिक्षण व बालिकाओं हेतु सुमंगला योजना की जानकारी दी। आमंत्रित वक्ता के रूप में उपस्थित अरुणोदय सोसायटी अध्यक्ष की अनुभूति चौहान ने महिला सशक्तिकरण में एनजीओ के कार्यों व भूमिका का उल्लेख किया व छात्राओं को शिक्षा के साथ साथ स्वास्थ्य के प्रति भी जागरूक होने का आहवान किया तथा अधिकारियों का दुरुपयोग न करने का सुझाव दिया। राजकीय महिला महाविद्यालय बांदा समाज शास्त्र विभाग की डॉ. सबीहा रहमानी ने कहा कि महिलाओं को आत्म अवलोकन करने व स्वनिर्णय लेने हेतु सक्षम होने की आवश्यकता है। वेबिनार की प्रतिभागी कन्या विद्यालय मटौर की प्रधानाचार्य डॉ. नीरा तोमर ने भी अपने विचार साझा किए।


मुख्य अतिथि क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी ने अपने उद्बोधन में कहा कि एशिया में महिला साक्षरता का अनुपात अपेक्षाकृत कम है, जिस कारण महिलाए अपने स्वास्थ्य व पोषण पर ध्यान भी नहीं देती। महिला को आर्थिक रूप से स्वावलंबी होने की आवश्यकता है। महाविद्यालयों को छात्राओं को उनके हुनर को परखने हेतु प्रेरित करना चाहिए, साथ ही कन्या भ्रूण हत्या के प्रति जागरूक करने का कार्य भी करना चाहिए। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. दिनेश चंद ने कहा कि जागरूकता के साथ समाज को महिला हेतु अपनी रूढ़िवादी सोंच बदलने की आवश्यकता भी है, तभी बदलाव आयेगा। प्राचार्य ने छात्राओं के आचरण व अच्छे व्यवहार के महत्व पर प्रकाश डाला। समिति की सदस्य डॉ. कुमकुम द्वारा सभी छात्राओं, प्राध्यापको व प्रतिभागियों को बालिका सुरक्षा हेतु शपथ दिलाई गई।
कार्यक्रम का आयोजन व संचालन महाविद्यालय की मिशन शक्ति समिति संयोजक लैफ्टि. (डा.) लता कुमार ने किया। अंत में डॉ. लता कुमार ने सभी आमंत्रित व उपस्थित अतिथियों व प्रतिभागियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। वेबिनार में गूगल मीट के माध्यम से देश भर से 100 से अधिक प्रतिभागियों ने सहभागिता की। कार्यक्रम के आयोजन में महाविद्यालय की मिशन शक्ति समिति के सभी सदस्यों का विशेष सहयोग रहा। कार्यक्रम में डॉ. भारती दीक्षित, डॉ. ममता सागर, डॉ. अनुजा गर्ग, डॉ. उमा शंकर, डॉ. गीता चौधरी, डॉ. अनीता गोस्वामी, डा. वैभव शर्मा, डॉ. अमर ज्योति, डा. मँजु रानी, डॉ. पारुल मलिक, डा. राकेश कुमार, डॉ. विकास कुमार, डॉ. दीपा गुप्ता, डॉ. शरद पंवार, डॉ. रोशन लाल, डॉ. सोशल व अन्य प्राध्यापकों सहित अन्य महाविद्यालय के प्राध्यापक, सामाजिक कार्यकर्ता, शोधार्ती व छात्र-छात्रायें उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Comment