श्रीराम काॅलेज में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुज़फ्फरनगर।  श्रीराम काॅलेज के बेसिक साइंस, बायोसाइंस एवं फार्मेसी विभाग में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के उपलक्ष्य में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। बेसिक साइंस विभाग द्वारा छात्र-छात्राओं के लिए विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी विषय पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन कराया। बायोसाइंस एवं फार्मेसी द्वारा भाषण प्रतियोगिता, पोस्टर मैकिंग प्रतियोगिता, निबन्ध प्रतियोगिता एवं माॅडल प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया गया। आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 प्रवीण चौपडा रहें।कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि डाॅ0 प्रवीन चौपडा, संस्थान के चेयरमैन डा0 एससी कुलश्रेष्ठ, श्री राम काॅलेज के निदेशक डाॅ0 आदित्य गौतम, प्राचार्य डाॅ0 प्रेरणा मित्तल, श्री राम काॅलेज ऑफ़ फार्मेसी के निदेशक डा0 गिरेन्द्र कुमार गौतम, डीन एकेडमिक्स डाॅ0 विनीत कुमार शर्मा, बायोसाइंस के डीन डा0 सौरभ जैन, बेसिक साइंस की विभागाध्यक्ष डाॅ0 पूजा तोमर आदि ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करके किया।


इस अवसर पर बेसिक साइंस विभाग की विभागाध्यक्ष डा0 पूजा तोमर ने विद्यार्थियों को प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के नियमों से प्रतिभागियों को अवगत कराया। विज्ञान प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता मे 60 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में 10 टीमें बनाई गई, जिसमें से 4 टीमों को प्रथम राउण्ड के बाद चयनित किया गया। टीमों का नाम आर्यभटट, रामानुज, हरगोविन्द खुराना, आइंस्टीन रखा गया। द्वितीय राउण्ड के बाद आइंस्टीन प्रथम, रामानुज द्वितीय व आर्यभटट तृतीय स्थान पर रही। प्रथम स्थान पर रहने वाली टीम आइंस्टीन के प्रतिभागी अंकित, श्रुति कौशिक, साक्षी सैनी व आरजु राठी रहे। द्वितीय स्थान पर रहने वाली टीम रामानुज के प्रतिभागी अवंतिका शर्मा, श्रुति त्यागी, लफी देशवाल व आर्यन रहे वही तृतीय स्थान पर दो टीमें रही। जिनमें आर्यभटट की टीम में काॅजल मित्तल, शैली बंसल, मेघा बालियान व वंशिका और हरगोविन्द खुराना टीम से अजय कुमार, भाविक चैधरी, अंकित भारती व यशप्रताप रहे।


भाषण प्रतियोगिता मे प्रथम स्थान बायोसांइस विभाग के सिद्धार्थ, द्वितीय स्थान बायोसांइस विभाग की आकांक्षा व तृतीय स्थान फार्मेसी विभाग के यश कपूर ने प्राप्त किया। निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान बायोसांइस विभाग की प्रिया गुप्ता, द्वितीय स्थान फार्मेसी विभाग की फरहीन अंजुम व तृतीय स्थान बायोसांइस विभाग के कुनाल ने हासिल किया। पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान फार्मेसी विभाग के अमजद, द्वितीय स्थान बायोसांइस विभाग की लायबा व तृतीय स्थान बायोसांइस विभाग की रितिका ने प्राप्त किया। माॅडल प्रतियोगिता में प्रथम स्थान बायोसांइस विभाग की जोया, द्वितीय स्थान फार्मेसी विभाग के वसीम व तृतीय स्थान बायोसांइस विभाग के हिमालय व कृषि विज्ञान विभाग के सोनू यादव ने प्राप्त किया।


बतौर मुख्य अतिथि मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 प्रवीन चौपडा ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के विषय में बताते हुए कहा कि राष्ट्रीय विज्ञान दिवस विज्ञान से होने वाले लाभों के प्रति समाज में जागरूकता लाने और वैज्ञानिक सोच पैदा करने के उद्देश्य से मनाया जाता है। शैक्षिक संस्थानों में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाये जाने का मूल उद्देश्य विद्यार्थियों को विज्ञान के प्रति आकर्षित व प्रेरित करना है। विज्ञान के बिना विकास की राह में तीव्रता से आगे नहीं बढ़ा जा सकता है। देश के विकास के लिए वैज्ञानिक सोच का प्रसार आवश्यक है। विज्ञान के द्वारा ही हम समाज के लोगें का जीवन स्तर अधिक से अधिक खुशहाल बना सकते हैं। श्री राम काॅलेज ऑफ़ फार्मेसी के निदेशक डा0 गिरेन्द्र कुमार गौतम ने बताया कि राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तत्वावधान में हर साल 28 फरवरी को भारत में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है। राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाने का उद्देश्य विज्ञान से होने वाले लाभों के प्रति समाज को जाग्रूक करना है।


बायोसाइंस के डीन डा0 सौरभ जैन ने बताया कि राष्ट्रीय विज्ञान दिवस रमन प्रभाव की खोज के कारण मनाया जाता है। इस खोज की घोषणा भारतीय वैज्ञानिक सर चंद्रशेखर वेंकट रमन ने 28 फरवरी 1928 को की थी। इसी खोज के लिये उन्हे 1930 में नोबल पुरस्कार दिया गया। यह किसी भी भारतीय व एशियन व्यक्ति द्वारा जीता गया पहला नोबल पुरस्कार था। अन्त में डाॅ0 आदित्य गौतम, निदेशक श्रीराम काॅलेज द्वारा विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेताओं को पुरूस्कृत किया गया। कार्यक्रम में प्रवक्ता लक्ष्मी गौड, डाॅ0 रीतू पुण्डीर, डाॅ0 राहुल आर्य, डाॅ0 मनोज मित्तल, विवेक, ऋषभ भारद्वाज, राजदीप सहरावत, अंजली गर्ग, श्वेता पुण्डीर, सोनू, टिंकू कुमार, रोहित मलिक, रोहिनी गुप्ता, विकास कुमार, अजय कुमार, सलमान, उज्जवल शर्मा, शिवम त्यागी, रवि कुमार, अमन सिहॅ, शफकत जैदी, साबिया परबीन, डा0 अश्वनी कुमार, लवी  शर्मा, डा0 समीक्षा जोशी, सेवी वर्मा, रोहिनी सैनी, साइमा सैफी, छवि गोयल, सचिन, रजत, दक्र्षिका, सुबोध, आशीष तिवारी, राहुल कुमार व तुषार भारद्वाज आदि का योगदान रहा।

Related posts

Leave a Comment