उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया सीएमएस में आयोजित सेलेस्टा इण्टरनेशनल 2020 का उद्घाटन

शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल अलीगंज (प्रथम कैम्पस) द्वारा आयोजित चार दिवसीय ऑनलाइन अन्तर्राष्ट्रीय साँस्कृतिक ओलम्पियाड ‘सेलेस्टा इण्टरनेशनल 2020 का उद्घाटन आज सायं बतौर मुख्य अतिथि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया। उद्घाटन समारोह में अमेरिका, रूस, बांग्लादेश, दुबई, ओमान, सउदी अरब, नेपाल एवं देश के विभिन्न प्रान्तों की लगभग 55 प्रतिभागी छात्र टीमों ने ऑनलाइन उपस्थिति से समारोह की गरिमा को बढ़ाया। प्रतिभागी छात्र टीमों एवं उनके शिक्षकों के सम्मान में शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के ऑनलाइन प्रस्तुतिकरण ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। सेलेस्टा इण्टरनेशनल 2020’ का ऑनलाइन आयोजन 14 से 17 अक्टूबर तक किया जा रहा है, जिसमें देश-विदेश के प्रतिभागी छात्र ट्रेडीशनल फाॅक डान्स, इन्स्ट्रूमेन्टल म्यूजिक, सोलो सिंगिंग, मास्क डिजाइनिंग, सेलेस्टा गाॅट टैलेन्ट, जिंगल, फ्री-स्टाइल/हिप हाॅप डांसिग, स्टैण्ड-अप काॅमेडी एवं पोएट्री रेसीटेशन आदि विभिन्न रोचक प्रतियोगिताओं में अपने हुनर का प्रदर्शन कर रहे हैं।

            उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कोविड-19 के इस दौर में सीएमएस अलीगंज कैम्पस ने विभिन्न देशों के छात्रों को साँस्कृतिक व साहित्यिक प्रतियोगिताओं के लिए एक ग्लोबल मंच पर एकत्रित किया है, जिसके लिए मैं विद्यालय को बधाई देता हूँ। विद्यालय का यह अनूठा प्रयास है और यही वह भावना है जो विश्व में एकता, शान्ति व सौहार्द को स्थापित करने में सहायक होगी। सीएमएस संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर पर कहा कि इस अन्तर्राष्ट्रीय साँस्कृतिक ओलम्पियाड के माध्यम से सीएमएस बच्चों को एकता, सहिष्णुता, प्रेम और शान्ति की शिक्षा देने का प्रयास कर रहा है। इससे पहले सेलेस्टा इण्टरनेशनल 2020 की संयोजक एवं सीएमएस अलीगंज (प्रथम कैम्पस) की वरिष्ठ प्रधानाचार्य ज्योति कश्यप ने मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य अतिथियों, प्रतिभागी छात्रों व शिक्षकों का हार्दिक स्वागत करते हुए कहा कि इस साँस्कृतिक ओलम्पियाड को आयोजित करने का उद्देश्य भावी पीढ़ी की बहुमुखी प्रतिभा के विकास के साथ ही उनके मानवीय एवं आध्यात्मिक दृष्टिकोण को विकसित करना है। इस अवसर पर स्कूल प्रार्थना, स्वागत नृत्य, वसुधैव कुटुम्बकम, विश्व एकता प्रार्थना, सर्वधर्म प्रार्थना एवं प्रार्थना नृत्य आदि एक से बढ़कर एक शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों ने सभी को भाव-विभोर कर दिया।

            इस अवसर पर सीएमएस प्रेसीडेन्ट एवं मैनेजिंग डायरेक्टर प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने कहा कि गीत-संगीत और नृत्य केवल मनोरंजन की वस्तु नहीं है, अपितु इसके माध्यम से व्यक्ति के चिन्तन, मनन और सोच को रचनात्मक दिशा में मोड़ा जा सकता है। सामाजिक उत्थान में ऐसे रचनात्मक आयोजनों की महती आवश्यकता है। सीएमएस के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफीसर रोशन गाँधी ने कहा कि सेलेस्टा छात्रों की बहुमुखी प्रतिभा को निखारने का सशक्त माध्यम है, साथ ही विभिन्न देशों के छात्रों के बीच सौहार्द व मैत्री की भावना को ब़ढ़ावा देने वाला अन्तर्राष्ट्रीय मंच है। सीएमएस संस्थापक डा. भारती गाँधी ने प्रतिभागी छात्रों को आशीर्वाद देते हुए उनकी खूब हौसला अफजाई की। समारोह का समापन प्रधानाचार्य व सह संयोजक शिवानी सिंह के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ।

Related posts

Leave a Comment