मध्यस्थता एवं लोक अदालत का महत्व व निशुल्क विधिक सहायता विषय पर विधिक सहायता शिविर आयोजित

शि.वा.ब्यूरो,  मुजफ्फरनगर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सलोनी रस्तोगी ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण से प्राप्त कलेन्डर के अनुसार जनपद न्यायाधीश व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष राजीव शर्मा के निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से दीवानी न्यायालय परिसर स्थित केन्द्रीय हाल में  मध्यस्थता एवं लोक अदालत का महत्व एवम् निशुल्क विधिक सहायता विषय पर विधिक सहायता शिविर का आयोजन किया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव ने मध्यस्थता एवं सुलह समझौते से सम्बन्धित संवैधानिक व विधिक प्रावधानों की जानकारी देते हुए कहा कि पक्षकारो के मध्य कई बार छोटी-छोटी बातो पर मतभेद हो जाता है तथा ये छोटी बाते बडी बन जाती है और मामला न्यायालय तक पहुँच जाता है। ऐसे में जिन मामलो में सुलह समझोैते के तत्व विद्यमान हो उन मामलो में न्यायालयों के न्यायाधीशगण तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में कार्यरत मध्यस्थगण द्वारा दोनो पक्षकारो को समझाते हुए उन्हे अपनी बात रखने का अवसर दिया जाता है तथा जिस बिन्दु पर दोनो पक्षकारो में मुख्य रूप से मतभेद हो उस बिन्दु पर दोनो पक्षो की प्राथमिकताओं को ध्यान में रखते हुए मामले का निपटारा आपसी बातचीत के आधार पर करने के लिए प्रेरित किया जाता है।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सलोनी रस्तोगी ने बताया कि मध्यस्थता, सुलह समझौता तथा लोक अदालत मामलो के निपटारे के लिए ऐेसे विकल्प है, जिनके माध्यम से वादकारियों सुलभ, सस्ता व शीघ्र न्याय उपलब्ध कराया जाता है। इसमें दोनो ही पक्षकारो की जीत होती है तथा पक्षकारो के सम्बन्ध आजीवन सौहार्दपूर्ण बने रहते है। उन्होंने कहा कि हमें अपने विवादों तथा मुकदमों को मध्यस्थता तथा लोक अदालत के माध्यम से निपटाने के लिए अधिक से अधिक लोगो को प्रेरित करना चाहिए। सचिव ने उ0प्र0 राज्य द्वारा चलायी जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक बताते हुए कहा कि आर्थिक रूप से अक्षम व्यक्तियों को यदि वे अपने मुकदमें की पैरवी करने में असमर्थ है तो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निशुल्क अधिवक्ता प्रदान किया जायेगा। शिविर में उपस्थित लोगो को संविधान में किये गये मौलिक कर्तव्यों की भी जानकारी दी गयी तथा कोविड-19 के बचाव के उपाय के सम्बन्ध में सभी को जागरूक किया गया।
इस अवसर पर धन प्रकाश त्यागी, प्रवीण शर्मा, मिनाक्षी शर्मा, श्याम कुमार, एडवोकेट, अन्तिमा, सुमन आदि भी उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Comment