सीएमएस छात्र व्योम आहूजा को महापौर संयुक्ता भाटिया ने एक लाख रूपये के नगद पुरस्कार से किया सम्मानित

शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के बहुमुखी प्रतिभा के धनी कक्षा-7 के छात्र व्योम आहूजा को आज विद्यालय के ऑडिटोरियम में आयोजित एक भव्य सम्मान समारोह में मेयर संयुक्ता भाटिया ने सम्मानित किया। सीएमएस द्वारा प्रदत्त एक लाख रूपये का चेक भेंटकर पुरष्कृत किया। व्योम की अभूतपूर्व प्रतिभा हेतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2021’ से पुरष्कृत कर सम्मानित किया है। इसके अलावा अभी हाल ही में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी व्योम से मुलाकात कर उसे सम्मानित किया है।

सम्मान समारोह में मेयर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि समस्त लखनऊ वासियों के लिए यह बड़ी प्रसन्नता का विषय है कि सीएमएस के छात्र व्योम आहूजा ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के हाथों सम्मानित होकर हम सभी को एक सुखद अहसास कराया है। उन्होंने कहा कि मैं व्योम के अत्यन्त उज्जवल भविष्य की कामना करती हूँ, साथ ही सीएमएस का भी आभार व्यक्त करती हूँ, जो अपने छात्रों को नित नई ऊचाईयाँ छूने को प्रोत्साहित कर रहा है और उनका मार्गदर्शन कर रहा है। इस अवसर पर सीएमएस के संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि व्योम ने अपनी अद्वितीय प्रतिभा से लखनऊ का नाम रोशन किया है, जिस पर सीएमएस परिवार ही नहीं, अपितु सम्पूर्ण लखनऊवासियों को गर्व है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए व्योम ने कहा कि मेरी सफलता में मेरे विद्यालय, मेरे शिक्षकों व मेरे माता-पिता का बहुत योगदान है, जिन्होंने मुझे सदैव आगे बढ़ने व कुछ नया करने को प्रोत्साहित किया। व्योम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सम्मानित होना मेरे लिए बहुत ही गौरव भरा है। व्योम ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री की इस सलाह को भी सदैव याद रखूँगा कि पुरस्कार जीवन का एक छोटा पड़ाव है और सफलताओं एवं उपलब्धियों को पाकर रूकना नहीं है, अपितु लगातार कार्य करते रहना है। व्योम ने कहा कि मेरे विद्यालय के संस्थापक डा. जगदीश गाँधी जी मेरे प्रेरणास्रोत हैं, जिन्होंने हम बच्चों को विनम्र रहना और चारित्रिक मूल्यों के साथ आगे बढ़ना सिखाया है। सीएमएस के मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि व्योम ने संगीत, विज्ञान एवं खेल के क्षेत्र में कई उपलब्धियाँ अर्जित की है एवं अब तक 35 रिकाॅर्ड्स अपने नाम किये हैं। वह शिक्षा के क्षेत्र में दो बार फ्यूचर कलाम अवार्ड से नवाजा जा चुके हैं एवं एशिया स्तर के तीन एवं विश्व स्तर के दो अवार्ड अपने नाम कर चुके हैं। इण्डिया बुक ऑफ़ रिकार्डस में 28 बार उसका नाम दर्ज हो चुका है। व्योम पढ़ाई में भी अव्वल हैं और विद्यालय की ओर से उसे ग्रैंड मास्टर का अवार्ड मिल चुका है।

Related posts

Leave a Comment