आंगनबाडी कार्यकत्री, मिनी, सहायिका के समायोजन के प्रार्थना पत्र मांगे

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला कार्यक्रम अधिकारी वाणी वर्मा ने बताया कि अपर मुख्य सचिव उ0प्र0 शासन के कार्यालय पत्र द्वारा आंगनबाडी कार्यकत्रियो, मिनी आंगनबाडी कार्यकत्रियो एवं सहायिकाओ की मानदेय के आधार पर चयन किये जाने है। इस शासनादेश के बिन्दु 10 समायोजन के सम्बंध में निर्देशित किया गया है कि यदि किसी आंगनबाडी कार्यकत्री, मिनी आंगनबाडी कार्यकत्री एवं सहायिका की शादी के पश्चात उसकी ससुराल के ग्राम सभा, न्याय पंचायत, वार्ड (शहरी क्षेत्रो में) के अन्तर्गत आंगनबाडी कार्यकत्री, मिनी आंगनबाडी कार्यकत्री एवं सहायिका का पद रिक्त है, तो उसे भी उक्त के सापेक्ष समायोजित किया जायेगा। यदि कोई दो आंगनबाडी कार्यकत्री, मिनी आंगनबाडी कार्यकत्री एवं सहायिका परस्पर समायोजित की जा सकती हों, इस सम्बंध में उनका प्रार्थना पत्र प्राप्त कर जिलाधिकारी का अनुमोदन प्राप्त करते हुए समायोजित किये जाने पर विचार किया जायेगा। उक्त स्थिति में यह सुनिश्चित कर लिया जाये कि किसी भी दशा में आरक्षण प्रभावित न हों।
जिला कार्यक्रम अधिकारी ने जनपद के समस्त बाल विकास परियोजना अधिकारी व प्रभारी को निर्देशित किया है कि परियोजना में कार्यरत आंगनबाडी कार्यकत्री, मिनी, सहायिका इन शर्तो के अनुसार यदि समायोजन करवाना चाहती है तो प्रारूप पर सूचना तैयार कर एक सप्ताह के अन्दर जिला कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। आपके द्वारा प्रस्तुत किये जाने वाले प्रार्थना पत्रो पर स्पष्ट संस्तुति के साथ अग्रसारित होना अनिवार्य है।

Related posts

Leave a Comment