अंतरराष्ट्रीय काव्य मंच ने बनाया कीर्तिमान, 8 देशों के 100 कवियों ने किया काव्य पाठ 

डॉ. शम्भू पंवार, नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय काव्य प्रेमी मंच तंजानिया द्वारा विश्व पटल पर ऑन लाइन  काव्य सम्मेलन का भव्य आयोजन किया गया। सुबह से रात्रि तक 12 घंटे निरंतर चले इस भव्य काव्य सम्मेलन  में रचनाकारों ने मां भारती के शहीद लाडले वीर सपूतों के व्यक्तित्व ओर कृतित्व को अपनी रचनाओं में व्याख्यायित करते हुए, काव्यमय श्रद्धांजलि अर्पित की। अंतरराष्ट्रीय काव्य प्रेमी मंच की संस्थापक डॉ. ममता सैनी (तंजानिया) ने बताया कि कवि सम्मेलन में डॉ. जितेंद्र भारद्वाज, प्रीतम कुमार झा, विनीता श्रीवास्तव ( भारत), श्रद्धा सिन्हा (अमेरिका), डॉ.मीनू पाराशर (कतर), शेखर रामकृष्ण तिवारी(दुबई), सारिका फ्लोर (केन्या), राखी बिलदानी (नाइजीरिया) सहित 8 देशों के 100 से अधिक रचनाकारों ने काव्य पाठ किया।
रचनाकारों ने मां भारती के शहिद वीर सपूतों के प्रति सम्मान स्वरूप काव्यांजलि अर्पित की। लगातार 12 घंटे तक चले इस साहित्यिक अनुष्ठान अपने आप में अनोखा और प्रीतम आयोजन रहा। कार्यक्रम की संयोजक डॉक्टर ममता सैनी ने सीए राकेश सैनी (तंजानिया) के सहयोग एवं उत्साह वर्धन का आभार व्यक्त करते हुए बताया कि शीघ्र ही सभी रचनाकारों को वीडियो के रूप में यूट्यूब चैनल पर भी प्रसारित किया जाएगा एवं कवयित्री सारिका फ्लोर( नैरोबी) के सहयोग से सभी रचनाकारों की रचनाओं का संग्रह भी प्रकाशित होगा। उन्होंने बताया कि देश विदेश से जुड़े सभी रचनाकारों की अनुपम कविताओं से सुसज्जित अंतरराष्ट्रीय मंच द्वारा आयोजित इस साहित्य  आयोजन को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड एवं गोल्डन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी उल्लेखित करवाने का प्रयास किया जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय काव्य प्रेमी मंच की संस्थापक डॉ. ममता सैनी के निर्देशन में पूर्व में भी विश्व पटल पर 16 देशों की 120 कवयित्रियों के इस मंच पर काव्य पाठ करवाकर काव्य कीर्तिमान स्थापित किया था।

Related posts

Leave a Comment