सीएमएस में आयोजित पाँच दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय साहित्यिक-साँस्कृतिक महोत्सव ‘यूफोरिया-2021’ का चौथा दिन, वाद-विवाद, क्विज, भाषण एवं कविता पाठ में दिखी छात्रों की अभूतपूर्व प्रतिभा

शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) द्वारा ऑनलाइन आयोजित किये जा रहे पाँच दिवसीय साहित्यिक एवं साँस्कृतिक महोत्सव ‘यूफोरिया-2021’ के चौथे दिन आज देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने वाद-विवाद, क्विज, भाषण एवं कविता पाठ प्रतियोगिताओं में अपनी अभूतपूर्व प्रतिभा की छाप छोड़ी और दिखा दिया कि भावी पीढ़ी रचनात्मक विचारों के साथ एक आदर्श सामाजिक व्यवस्था गढ़ने को तत्पर है।

यूफोरिया-2021 के तहत प्रतियोगिताओं की शुरूआत आज शुभाषिता (भाषण) प्रतियोगिता से हुई। इण्डियन कल्चर थीम पर आधारित यह प्रतियोगिता दो राउण्ड में आयोजित हुई। जूम एप पर लाइव आयोजित प्रथम राउण्ड में से 10 फाइनलिस्ट को चयनित किया गया, जिन्होंने द्वितीय राउण्ड में और भी बेहतर तरीके से अपनी अभिव्यक्ति क्षमता, रचनात्मक सोच एवं भारतीय संस्कृति व सभ्यता के ज्ञान का जोरदार प्रदर्शन किया। प्रतिभागी छात्रों ने प्रतियोगिता के समय ही दिये गये विषय पर अपने विचार व्यक्त किये। इसी प्रकार जूनियर वर्ग के छात्रों के लिए आयोजित वर्डप्ले प्रतियोगिता में छात्रों ने कविता पाठ कर अपने हुनर का जलवा बिखेरा। यह प्रतियोगिता भी दो राउण्ड में सम्पन्न हुई। प्रारम्भिक लिखित राउण्ड के उपरान्त 6 प्रतिभागी छात्रों को फाइनल राउण्ड में प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर मिला, जिन्होंने दिये गये मुहावरे, वाक्यांश एवं उपमाओं पर कविताएं बनाकर उसका प्रस्तुतिकरण किया।

यूफोरिया-2021 के अन्तर्गत आज आयोजित शास्त्रार्थ एवं तेनाली प्रश्नावली प्रतियोगिताओं का फाइनल राउण्ड बेहद आकर्षक रहा। प्रतिभागी छात्रों में एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ लगी रही। सीनियर वर्ग के छात्रों के लिए आयोजित इन प्रतियोगिताओं में जहाँ एक ओर वाद-विवाद प्रतियोगिता में छात्रों ने बड़े ही जोरदार तरीके से विषय के पक्ष व विपक्ष में अपने विचार रखे, तो वहीं दूसरी ओर क्विज प्रतियोगिता में बिजली की तेजी से सवालों के जवाब देकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में छात्रों ने इण्डियाज पाॅलिटिक्स इज द रीजन बिहाइन्ड द कन्ट्रीज बैकवर्डनेस विषय पर पक्ष-विपक्ष में अपने विचार व्यक्त करते हुए राजनीति में रचनात्मक बदलाव के सुझाव दिये। इन छात्रों तर्क-वितर्क करते हुए राजनैतिक क्षेत्र की महान हस्तियों का उल्लेख किया, जिन्होंने अपना जीवन देश का समर्पित कर दिया। उन्होंने ऐसे राजनीतिज्ञों का भी उल्लेख किया, जिन्होंने देश को भुलाकर राजनीति को व्यक्तिगत लाभ व स्वार्थ का विषय बना दिया है।

सीएमएस के मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि यह अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव कल 9 फरवरी को सम्पन्न हो जायेगा। कल 9 फरवरी मंगलवार को अपरान्हः 12.30 बजे से रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों के बीच ‘यूफोरिया-2021’ का पुरस्कार वितरण व समापन समारोह ऑनलाइन आयोजित किया जायेगा। इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजयी प्रतिभागियों को पुरष्कृत कर सम्मानित किया जायेगा। इससे पहले, जूनियर वर्ग की ‘टर्नकोट इन थियेटर (लघु नाटिका) प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा।

विदित हो कि ‘यूफोरिया-2021’ का आयोजन 5 से 9 फरवरी तक किया जा रहा है, जिसमें रूस, बांग्लादेश, नेपाल, शारजाह, कुवैत एवं भारत के विभिन्न राज्यों के मेधावी छात्रों विभिन्न रोचक व ज्ञानवर्धन प्रतियोगिताओं में अपने ज्ञान-विज्ञान व कलात्मक कौशल का जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं। इस अन्तर्राष्ट्रीय समारोह का उद्देश्य संतुलित एवं गुणात्मक शिक्षा द्वारा भावी पीढ़ी के समग्र विकास को सुनिश्चित करना है।

Related posts

Leave a Comment