जनपद शामली के उच्च प्राथमिक विद्यालयों के 50 शिक्षकों का संस्कृत भाषा के उन्मुखीकरण के लिए 14 दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण 20 फरवरी तक

शि.वा.ब्यूरो, मुज़फ्फरनगर। उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान लखनऊ एवं राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के संयुक्त तत्वाधान में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान द्वारा जनपद शामली हेतु 5 से 20 फरवरी तक 14 दिवसीय ऑनलाइन Google Meet संस्कृत प्रशिक्षण प्रारंभ किया गया है।

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) के प्राचार्य भीम सिंह ने प्रशिक्षण में प्रतिभाग कर रहे सभी शिक्षकों को शुभकामनाएं दी तथा संस्कृत भाषा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि प्राथमिक स्तर पर संस्कृत प्रशिक्षण के तहत संस्कृत भाषा के उन्मुखीकरण का पहला एवं नवीन प्रयास है। कोरोना की इस महामारी के कारण यह प्रशिक्षण पहली बार ऑनलाइन माध्यम से दिया जा रहा है। नोडल अधिकारी (प्रशिक्षण) डॉ. प्रीति माथुर ने बताया कि 14 दिवसीय इस प्रशिक्षण में जनपद शामली के उच्च प्राथमिक विद्यालयों के 50 शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के बाद शिक्षक छात्रों को कक्षा में बेहतर तरीके से संस्कृत भाषा का ज्ञान दे सकेंगे। विभिन्न नवाचार का प्रयोग करके गीत, संगीत, उच्चारण अभ्यास तथा आधुनिक तकनीक के द्वारा बालकों को अत्यंत सरल तरीके से संस्कृत भाषा का ज्ञान दिया जाएगा। भीम सिंह ने बताया कि लखनऊ संस्थान की प्रशिक्षक शिवानी तथा मनीषा द्वारा प्रशिक्षण बहुत ही रोचक एवं सरल माध्यम से दिया जा रहा है। शिक्षकों से प्रत्येक दिन Google Form के द्वारा आनलॉइन फीडबैक लिया जाता है तथा शिक्षकों को प्रकरणवार पी डी एफ उपलब्ध कराया जा रहा है।

Related posts

Leave a Comment