जनपद के 466 फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगा कोरोनारोधी टीका


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 प्रवीण चोपडा ने बताया कि जनपद में कोरोना काल में दिन रात जान जोखिम में डालकर काम करने वाले पहले चरण के 466 फ्रंटलाइन वर्करों को आज वैक्सीन का टीका लगाया गया। कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण अभियान में शुक्रवार से आरम्भ हुए दूसरा चरण में पुलिस कर्मियों, लेखपालों को भी टीका लगाया गया।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि आज छः केंद्रों पर आठ सत्रों में 582 लाभार्थियों को टीका लगाने का लक्ष्य था। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों के अलावा पुलिस कर्मी और कलैक्ट्रेस कर्मियों को टीका लगाया गया। पुलिस लाइन और कलक्ट्रेट के अलावा जिला अस्पताल, शांति मदन अस्पताल, न्यू वर्धमान हाॅस्पिटल और मुजफ्फरनगर मेडिकल काॅलेज बेगराजपुर में भी टीकाकरण किया गया। डा0 प्रवीण चोपडा ने बताया कि आज सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक जनपद के छः केंद्रों पर आठ सत्रों में 466 फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीका लगाया गया। पुलिस लाइन तथा क्लक्ट्रेट एवं जिला अस्पताल तथा नया वर्धमान हास्पिटल में एक-एक सत्र में टीकाकरण हुआ, जबकि शांति मदन हास्पिटल तथा मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज में दो-दो सत्रों में टीकाकरण हुआ। वैक्सीन लगने के बाद सभी  को आधा घंटे तक कोविड प्रोटोकाॅल के तहत वैक्सीनेशन सेंटर पर बने आब्जर्वेशन कक्ष में विश्राम कराया गया।
मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि पुलिस लाइन में 75, कलक्ट्रेट में 68, जिला महिला अस्पताल में 77, शांति मदन में 130, न्यू वर्धमान हॉस्पिटल में 55, मुजफ्फरनगर मेडिकल में 61 लोगों को टीका लगा। जनपद में कुल 80 प्रतिशत टीकाकरण हुआ।  सीएमओ ने बताया कि वैक्सीन से किसी भी प्रकार का हानि नहीं है। इसे लगवाने में घबराने की जरुरत नहीं है। यह कोरोना महामारी की चेन तोड़ने में कारगार है और वेक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है।

Related posts

Leave a Comment