सहयोग न करने वालों के खिलाफ होगी महामारी अधिनियम 1897 के अन्तर्गत कानूनी कार्यवाही

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। नगर मजिस्ट्रेट ने बतया कि कोविड-19 की जांच में जो व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाये जाते है तथा संक्रमित व्यक्तियों के विगत 14 दिनों में सम्पर्क में रहने वाले समस्त व्यक्ति स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा इस सम्बन्ध में किये जाने वाली कार्यवाही यथा होम आइसोलेशन, काॅन्टैक्ट टेªसिंग, सैम्पलिंग आदि में पूर्ण सहयोग करें, यदि कोरोना-19 संक्रमित व्यक्तियों तथा संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आ जाने वाले व्यक्तियों के द्वारा स्वास्थ्य विभाग अथवा जिला प्रशासन की टीम को सहयोग नही किया जाता है अथवा गलत जानकारी उपलब्ध कराई जाती है तो इस प्रकार के दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध महामारी अधिनियम 1897 तथा अन्य सुसंगत अधिनियम के अन्तर्गत कानूनी कार्यवाही की जायेगी। जिसका समस्त उत्तरादायी सम्बन्धित व्यक्ति का होगा।

Related posts

Leave a Comment