उ0प्र0 स्थापना दिवस नुमाईश मैदान में 24 से 26 जनवरी तक, विभागीय योजनाओं के लगेंगे स्टाॅल, लाभार्थियों को किया जायेगा प्रमाण पत्रों व स्वीकृति पत्रों का वितरण


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव ने आज विकास भवन सभागार में 24 जनवरी से 26 तक आयोजित होने वाले उ0प्र0 स्थापना दिवस की तैयारियों के सम्बन्ध में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में कहा कि उ0प्र0 स्थापना दिवस 24 जनवरी से 26 तक नुमाईश मैदान में भव्यता के साथ मनाया जायेगा। उन्होने समस्त उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि उक्त कार्यक्रम की व्यवस्था सुव्यवस्थित हो। कार्यक्रम में सभी विभाग एकीकृत कार्यक्रम के अन्तर्गत सहयोग प्रदान करेंगे तथा सभी विभाग अपने-अपने विभागीय योजनाओं के प्रदर्शन हेतु स्टाॅल लगाना सुनिश्चित करेंगे। मंच की व्यवस्था हेतु लो0नि0वि0 को दायित्व सौपा गया, जिसके लिये परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण को कोर्डिनेट की जिम्मेदारी सौपी गयी तथा नगर विकास को नुमाईश पंडाल की साफ-सफाई की व्यवस्था हेतु निर्देशित किया गया। जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि विद्यालयों में होने वाले सांस्कृति कार्यक्रम तीन दिवसीय मेले में ही आयोजित किय जायेंगे, साथ 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस की रैली भी नुमाईश ग्राउन्ड से ही निकाली जायेगी। अधिशासी अधिकारी नगरपालिका को निर्देशित किया गया कि नुक्कड नाटक हेतु टीम बुलाकर कार्यक्रम आयोजित किये जाये तथा साथ ही उनके द्वारा 04 वर्षों में कराये गये कार्याें के फोटोग्राफ्स सम्बन्धित स्टाॅलों पर लगायें जायें। 3 दिवसीय कार्यक्रम की समयावधि प्रातः 10 बजे से अपरान्ह 04 बजे तक होगी।.


समीक्षा के दौरान जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा बताया गया कि उनके विभाग द्वारा उक्त 3 दिवसीय कार्यक्रम के अन्र्तगत पेंशन कैम्प का आयोजन एवं समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में चयनित लाभार्थियों को स्वीकृति पत्रों का वितरण कराया जायेगा। जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देशित किया गया कि एनसीसी, एनएसएस तथा स्काउट से जुड़े बच्चों को भी आंमत्रित कर कार्यक्रम आयोजित कराये। जिला युवा कल्याण अधिकारी के प्रतिनिधि को निर्देशित किया गया कि वे 3 दिवसीय कार्यक्रमों के अन्तर्गत युवक मंगल दल एवं महिला मंगल दलों को प्रोत्साहन स्वरूप खेल सामग्री का वितरण करायेंगे, जिनमें प्रतिदिन 10 युवक एवं 10 महिला मंगल दलों को खेलकूद के सामान का वितरण किया जायेगा। जिला क्रीडा अधिकारी द्वारा 03 दिवसीय कार्यक्रमों के अन्तर्गत ताईकमांडो, क्रिकेट एवं गोष्ठि का आयोजन कराया जायेगा। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी के प्रतिनिधि को निर्देश दिये कि 03 दिवसीय यूपी स्थापना दिवस पर  स्वास्थ्य विभाग द्वारा आरोग्य मेले, स्वास्थय मेले की व्यवस्था कर उसमे 02 से 03 चिकित्सकों की प्रतिदिन ड्यूटी लगाकर कैंप आयोजित कराये, साथ ही कोविड 19 का कैंप भी लगाये। जिला प्रोबेशन अधिकारी ने बताया गया कि उनके द्वारा 03 दिवसीय कार्यक्रम के अन्तर्गत निराश्रित महिला पेंशन एवं मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र से सम्मानित किया जायेगा तथा तीनों दिनों में बाल विवाह की रोकथाम विषय पर मंच के माध्यम से कार्यक्रम का आयोजन कराया जायेगा।


मुख्य विकास अधिकारी ने जिला कृषि अधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद स्तर पर होने वाले 03 दिवसीय कार्यक्रमों के आयोजन में समस्त कार्य योजनाओं का प्रस्तुतिकरण तथा लाभार्थियों के लिये विशेष अभियान संचालित किये जायें। प्राकृतिक कृषि, जीरो बजट कृषि, उन्नत कृषि, बागवानी, पशुपालन, दुग्ध व्यवसाय मत्सय पालन आदि कृषि से जुड़े हुए विशिष्ट कार्य करने वाले कृषकों समूहों को विशेष रूप से आमंत्रित करते हुए उन्हेे सम्मानित किया जाये। कौशल विकास विभाग द्वारा अपने विभाग से सम्बन्धित स्टाॅल लगाये जायेंगे तथा तथा चयनित हुए अभ्यर्थियों को प्रमाण पत्र वितरण का कार्य किया जायेगा। श्रम विभाग द्वारा कैम्प आयोजित कर प्रमाण पत्रों का वितरण किया जायेगा। कार्यक्रम विभाग द्वारा स्टाॅल लगाकर सूखा राशन  वितरण जैसे दाल, चावल गेहूँ तथा देसी घी व स्कीम्ड मिल्कड पाउडर लाभार्थीवार वितरण की जानकारी दी जायेगी। जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा बताया गया कि तीन दिवसीय आयोजन स्थल पर स्टाॅल लगाकर ओडीएफ निरन्तरता बनाये रखने एवं शौचालय के निरन्तर उपयोगार्थ जनमानस को जागरूक करायेंगे तथा आयोजन स्थल पर ही स्टाॅल लगाकर मासिक धर्म प्रबन्धन के विषय पर किशोरियों-महिलाओं को जानकारी उपलब्ध करायेंगे। साथ ही ठोस एवं तरल अपशिष्ठ प्रबन्धन हेतु लोगों को जागरूक करायेंगे। इनके द्वारा कैम्प आयोजित कर सोशल सिक्योरिटी स्किम, एग्रीकल्चर स्कीम एवं बैंक प्रयोजित योजनाओं से सम्बन्धित स्कीमों की जानकारी प्रदान कराने हेतु कैम्प आयोजित किये जायेंगे।


इस अवसर पर परियोजना निदेशक/जिला विकास अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, अधिशासी अभियन्ता, लोनिवि प्राख/निख-1, नगर मजिस्ट्रेट, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, खादी ग्रामोघोग, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, उप कृषि निदेशक, महाप्रबन्धक, जिला उद्योग केन्द्र, प्रतिनिधि- मुख्य चिकित्साधिकारी, सहायक श्रमायुक्त, जिला समास कल्याण अधिकारी, जिला यूवा कल्याण अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, उप सम्भागीय परिवहन एवं समस्त खण्ड विकास अधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Related posts

Leave a Comment