राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्रजकिशोर शर्मा का जन्मदिन मनाया

डॉ.शम्भू पंवार, नई दिल्ली। प्रतिष्ठित संस्थान राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वरिष्ठ साहित्यकार व शिक्षाविद ब्रजकिशोर शर्मा के जन्मदिवस को संचेतना परिवार ने उत्सव के रूप में धूमधाम से मनाया। इसके आयोजक राष्ट्रीय महासचिव डॉ.प्रभु चौधरी और संयोजक तथा संचालन राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ.मुक्ता कान्हा कौशिक रहे। क्रार्यक्रम का प्रारंभ पूर्णिमा कौशिक की मां सरस्वती वंदना की प्रस्तुति से हुआ। स्वागत उद्बबोधन डॉ.प्रभु चौधरी ने किया।
विशिष्ट अतिथि प्रसिद्ध लेखक व आलोचक प्रो.शैलेन्द्र कुमार शर्मा ने ब्रजकिशोर शर्मा को एक आदर्श शिक्षक व उनके जीवन को बहुत ही प्रेरणादायक  बताया। मुख्य वक्ता कौशल कुमार पाण्डेय ने कहा कि श्री शर्मा को कुशल व्यकित्व के धनी और एक अच्छे शिक्षक के रूप में रहें।  मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता अंतरराष्ट्रीय अवार्डी व वरिष्ठ पत्रकार डॉ.शंभू पंवार ने बीके शर्मा को समाज के लिए एक प्रेरणादायक व्यक्तित्व बताया। उन्होंने श्री शर्मा के व्यक्तित्व एवं कृतित्व को सार्थक रूप प्रदान करने की घोषणा करते हुए जन्मदिवस बधाई दी।
विशिष्ट अतिथि मुख्य कार्यकारी शिक्षाविद डॉ.शहाबुद्दीन नियाज़ मुहम्मद शेख़ ने बीके शर्मा को सेवा, स्नेह, समर्पण, सदाचार, संवेदनशीलता, सहनशीलता व सकारात्मकता से सरोबार विशाल व्यक्तित्व के धनी बताया।
वरिष्ठ साहित्यकार हरेराम बाजपेयी, सुवर्णा जाधव, सीमा मिश्रा ने श्री शर्मा को सरल, सहज ,आदर्श वादी बताया। श्रीमती लता जोशी ने  जन्मदिवस पर दीपों से स्वागत हुए कविता प्रस्तुत की। डॉ.रश्मी चौबे की कविता-
प्रभु आपकी कृपा से सब काम हो रहा है, 
करते हैं श्री किशोर जी संस्था का नाम हो रहा है।
स्वर्ण••••पतवारों से, संचेतना की नाव चल रही है,
इस अवसर पर राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के राष्ट्रीय अध्यक्ष  ब्रजकिशोर शर्मा ने जन्मदिवस को इतना स्मरणीय ओर यादगार बनाने पर सभी का आभार व्यक्त किया। राष्ट्रीय प्रवक्ता शिक्षाविद डॉ मुक्ता कान्हा कौशिक ने संचालन करते हुए-
ईश्वर सत्य है, सत्य ही शिव है,शिव ही सुंदर है
भजन प्रस्तुत किया। समारोह में डॉ आशीष नायक धमतरी, डॉ प्रवीण बाला, डॉ शिवा लोहरिया, श्री राम शर्मा, डीपी शर्मा, डॉ ममता झा, मनीषा ठाकुर एवं ब्रजकिशोर शर्मा परिवार सहित उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Comment