सलाह समर्थ से, निर्णय स्वयं का


दिलीप भाटिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

कई समस्याओं में स्वयं निर्णय लेने में असमंजस होना स्वाभाविक है। मार्गदर्शन सलाह सुझाव राय किसी सक्षम समर्थ व्यक्ति से लेने में कोई संकोच नहीं करना चाहिए। प्राप्त सुझावों का पहले स्वयं चिंतन कर मूल्यांकन करें, तभी निर्णय लें। जिस भी समाधान पर अमल कर रहे हैं, उसकी ज़िम्मेदारी हमारी स्वयं की ही है, सलाह देने वाले प्राणी की नहीं। हमारी अपनी समस्या का समाधान करना हमारी स्वयं की ज़िम्मेदारी है। कोई अन्य व्यक्ति उसके लिए उत्तरदाई नहीं है। सलाह देने वाला अपने ज्ञान एवम अनुभव से जो सलाह दे रहा है, शायद हमें उस समाधान पर अमल करने में परेशानी हो सकती है।
याद रखिए! प्रत्येक सलाह पर अमल करना संभव नहीं होता, इसलिए सलाह लेने के बाद सोच विचार कर अमल करें। सलाह देने वाले व्यक्ति का नाम गुप्त रखने से उस व्यक्ति पर कोई परेशानी नहीं आ पाएगी एवम भविष्य में भी उस व्यक्ति से सलाह लेने के लिए आपके लिए उसके दरवाज़े खुले रहेंगे। निष्ठा आंखों की समस्या है। स्क्रीन टाइम मात्र स्वास्थ्य व शिक्षा के लिए ही करने की सलाह दी, सोशल साइट्स को ब्लॉक करने का सुझाव दिया, लेकिन निष्ठा अभी भी स्मार्टफोन में लगी रहकर अपनी आंखें और अधिक खराब कर स्वयं ही अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मार रही है।
प्राइवेट स्कूल की शिक्षिका पूजा को सलाह दी गयी कि प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर स्थाई सरकारी नौकरी प्राप्त करने हेतु मेहनत करिए, कविता लिखना, बोलना, सम्मान पत्र बटोरना आदि स्थाई सरकारी नौकरी मिलने तक कुछ समय के लिए स्थगित कर दे, लेकिन कोई असर नहीं हुआ। ससुराल गेंदा फूल में परेशान कुसुम को अत्याचार नहीं सहने की सलाह दी। सास ननद के अपशब्दों की वीडियो रिकॉर्डिंग कर पीहर एवम पुलिस अधिकारी को भेजने की सलाह दी। स्वयं निर्णय लेने के लिए कहा। अमल करने पर कुसुम की ज़िम्मेदारी होगी, सलाह देने वाले रोहित अंकल की नहीं। प्रार्थना को सलाह दी कि लूटने वाले फर्जी संस्थान से उच्च शिक्षा मत प्राप्त करो, लेकिन मनमर्ज़ी से प्राप्त फर्जी डिग्री से उस को किसी भी संस्थान में नौकरी नहीं मिल पा रही है। विद्यार्थी हितेश को माता-पिता ने जबरदस्ती  कोचिंग क्लास अटेंड करवाई, परिणाम शून्य रहा। सलाह देने वाले अंकल को कोसने से परिणाम बदल नहीं जाएगा। सलाह ही गलत व्यक्ति से ली थी। उस स्वार्थी व्यक्ति को तो कोचिंग संस्थान से उसका कमीशन मिल चुका है। सलाह लेने से पहले व्यक्ति को परख लेना भी कई परेशानी से बचाएगा। राशि तलाकशुदा है। परिवार के सदस्य समान दीपक अंकल के मना करने पर भी अंधे प्रेम में एक और गलत कदम लेने से अब कोर्ट में दूसरे तलाक का मुकदमा चल रहा है। कई बार इस लेख के लेखक ने स्पष्ट कर अपनी असमर्थता व्यक्त कर दी है कि इस समस्या का समाधान पर सलाह देने के लिए मुझे जानकारी नहीं है। गलत एवम बिना मांगे सलाह देने से हमेशा दूर रहना चाहिए। सलाह लेने वाले व्यक्ति का भी कर्तव्य है कि सलाह देने वाले व्यक्ति को कोई  आंच नहीं आए। सलाह लेना व देना ईमानदारी से होना चाहिए।
वर्तमान में गूगल व्हाट्सएप सिग्नल टेलीग्राम सोशल साइट्स नकली पुजारी गुरुजी उपलब्ध हैं सलाह के लिए, इसलिए मित्र सहेली परिवार के सदस्य रिश्तेदार से कोई सलाह नहीं लेता, लेकिन कभी किसी अपने पर भरोसा विश्वास कर अत्यंत दुखी प्राणी सलाह चाहता है तो दो पॉइंट्स पर अवश्य ध्यान देने की आवश्यकता है। सलाह चाहने वाला अपनी पूरी समस्या शेयर करें, कोई भी बात छुपाए नहीं। सलाह देने वाला ईमानदारी से स्पष्ट सलाह दे, हां में हां नहीं मिलाए। यह भी स्पष्ट करना आवश्यक है कि यह मात्र सलाह है, निर्णय सामने वाले को लेना है। सलाह पर अमल करने से अगर समस्या नहीं सुलझ पाती है अथवा बढ़ती है तो इसकी ज़िम्मेदारी सलाह लेने वाले व्यक्ति की स्वयं की है। सलाह देने वाले की नहीं। स्वयं की शिक्षा संस्कार विवेक अनुभव से स्वयं के मन दिमाग से समस्या का समाधान सर्वश्रेष्ठ होता है, पर हम सभी इंसान हैं। सलाह ली जाएंगी, सलाह दी जाती रहेंगी। सेवानिवृत्त परमाणु वैज्ञानिक अधिकारी परमाणु बिजली घर रावतभाटा राजस्थान

Related posts

Leave a Comment