नारी अन्तर्मन के भावों को कैनवास पर उकेरने की एक्सपर्ट साबित हो रही डा. मिली भाटिया


शि.वा.ब्यूरो, रावतभाटा (राजस्थान)। बहुआयामी प्रतिभा की धनी डा. मिली भाटिया आर्टिस्ट काफी दिनों से नारी अन्तर्मन के भावों को कैनवास पर उकेरने के लिए चर्चा में हैं। उनके द्वारा अपनी पेंटिंग में विभिन्न परिस्थितियों में नारी मन की अन्तर्दशा को बखूबी उभारा है। डा. मिली की इन पेंटिंग को प्रदर्शनी में काफी सराहना भी मिल चुकी है।
जानकारों की मानें तो बहुआयामी प्रतिभा की धनी मिली भाटिया काफी संवदेनशील हैं, बेटी, प्रेयसी, पत्नी और मां के दायित्व का वे बडी संवेदनशीलता के साथ निर्वहन कर रही हैं। इतना ही नहीं उनकी पुत्री लिली भी उनके नक्शेकदम पर चलने के लिए बेताब है, वह भी अपना जन्म दिन रक्तदान करके मनाना चाहती हैं, लेकिन उम्र का तकाजा ऐसा करने से रोक रहा है। लिली ने संकल्प लिया है कि वे अपना 18वां जन्मदिन रक्तदान करके ही मनायेगी। इसके साथ ही विभिन्न त्यौहारों पर गरीबों की सेवा करना व दान देना मिली-लिली के स्वभाव में है।

Related posts

Leave a Comment