एसडी कालेज ऑफ़ फार्मेसी एण्ड वोकेशनल स्टडीज में इन्वेस्टर अवेयरनेस प्रोग्रामः फाइनेन्सियल अवेयरनेस ड्यूरिंग कोविड-19 पर वेबिनार आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुज़फ्फरनगर। एसडी कालेज ऑफ़ फार्मेसी एण्ड वोकेशनल स्टडीज में इन्वेस्टर अवेयरनेस प्रोग्रामः फाइनेन्सियल अवेयरनेस ड्यूरिंग कोविड-19 नामक शीर्षक पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया, जिसमें प्रोफेसर डीडी राज श्रीवास्तव मोटिवेशनल स्पीकर एवं लीडरशिप कोच ने म्यूचुअल फन्डस् आदि की जटिल जानकारियो को बहुत ही सरलता से बताया। वेबिनार में कालेज के पदाधिकारियो, स्टाफ व डीफार्मा, बीफार्मा, और एमफार्मा के छात्रो ने बढ-चढकर हिस्सा लिया।
प्रोफेसर श्रीवास्तव ने बताया कि सर्वप्रथम भारतीय रिजर्व बैंक और भारत सरकार की पहल पर यूनिट ट्रस्ट ऑफ़ इन्डिया (यूटीआई) के गठन के साथ भारत में म्यूचुअल फंड उद्योग 1963 में शुरू हुआ, जिसका उददेश्य निवेशको को आकर्षित करके उन्हे निवेश तथा बाजार से सम्बन्धित विषयो से अवगत कराना था। तदुपरान्त उन्होने म्यूचुअल फंड के प्रकार, निवेश, इसको कैसे खरीदे और इसके फायदों पर विस्तार पूर्वक व्याख्यान दिया। सामान्यतः म्यूचुअल फंड एक लाभ की विषय वस्तु है। म्यूचुअल फंडस सिक्योरिटीज एण्ड एक्सचेज बोर्ड ऑफ़ इंडिया (एसईबीआई) के अन्तर्गत पंजीकृत है जोकि भारत में बाजार को नियंत्रित करता है। निवेशको के पैसो को बाजार में सुऱिक्षत रखने का काम सेबी के द्वारा किया जाता है। सेबी द्वारा सुनिश्चित किया जाता है कि कहीं कोई कम्पनी लोगो के साथ धोखा तो नहीे कर रही। कालेज निदेशक डा0 अरविन्द कुमार ने स्पीकर का धन्यवाद करते हुए कहा कि इस वेबिनार से श्रोताओं को इस क्षेत्र महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त हुई हैं।


इस अवसर पर कालेज के पदाधिकारी व स्टाफ एंवम् प्रवक्ता डाॅ0 क्षितिज अग्रवाल, डा0 वैशाली सिह, विमल कुमार भारती, सौरभ घोष, ईशान अग्रवाल, हरेन्द्र सिंह, आशिफ खान, प्रवीन कुमार, चारू भारती, पल्लवी गौतम, राबिया प्रवीन, नाजिया, शालिनी, शिप्रा, सुबोध कुमार, सोनू कुमार, रोहित, विनय, अतुल गुप्ता, सना जैदी, अमित, अंकित, आरिफ, राहुल कुमार आदि उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Comment