राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह 18 जनवरी से 17 फरवरी तक

शि.वा.ब्यूरो,  मुजफ्फरनगर। सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशो के क्रम में 18 जनवरी से 17 फरवरी तक राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह मनाया जायेंगा। उन्होने बताया कि राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह में आम जनता को जागरूक करने एवं यातायात के नियमों का पालन करने के लिए भी जानकारी उपलब्ध कराई जायेंगी। उन्होने बताया कि एक माह तक चलने वाले इस अभियान में स्कूली छात्रों के द्वारा जागरूकता रैली, ड्राईवरों का स्वास्थ्य परीक्षण और वाहन चलाते समय नशे का प्रयोग न करने तथा हेल्मेट की आवश्यकता आदि के सम्बन्ध में जानकारी दी जायेगी।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि इस आयोजन में प्रत्येक दिन नये विषय पर जानकारी दी जायेंगी। उन्होने बताया कि 18 जनवरी को उद्घाटन एवं सडक सुरक्षा शपथ ग्रहण समस्त विभाग में करायी जायेगा। उन्होने बताया कि 19 जनवरी को जनपदीय कार्यलयों के कर्मचारी एवं अधिकारियों का सड़क सुरक्षा के संबध में ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जायेगा व ड्राईविंग रेगलुेशन, 2017 एवं मोटर वाहन संशोधन अधिनियम, 2019 के बारे में अधिकारियां व कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जायेंगा। इसी प्रकार यातायात कमिर्याें के कार्य व्यवहार, टर्न आउट व आचरण में सुधार पर विषेष ध्यान दिया जाये एवं यातायात पुसिल कर्मियों को यातायात संकेतों के संचालन का प्रषिक्षण दिया जाये। ड्राइविंग रेगुलेशन, 2017 एवं मोटर वाहन संशाधोन अधिनियम, 2019 के बारे में अधिकारियों/कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जायेंगा। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जिला अस्पतालों में वाहन चालकों का स्वास्थ्य एवं नेत्र परीक्षण एवं कोविड-19 के प्रति जागरूक किया जायेंगा।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 20 जनवरी को हेल्मेट व सीटबैल्ट के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस व परिवहन विभाग के द्वारा विशेष अभियान चलाया जायेंगा। उन्होने बताया कि परिवहन निगम अपने चालकों परिचालकों की नशा करके बस चलाने एवं ओवरस्पीडिंग के विरूद्ध चेंकिग कर उन्हें जागरूक करने का भी अभियान चलाया जायेंगा। उन्होंने बताया कि 21 जनवरी को ग्रामीण क्षेत्रों में हेल्मेट एवं सीटबेल्ट के संबध में लोगों को जागरूक करना एवं चैकिंग अभियान व ग्रामीण क्षेत्रों में परिवहन निगम अपने चालकों परिचालकों की नशा करके बस चलाने एवं ओवरस्पीडिंग के विरूद्ध चेंकिग कर उन्हें जागरूक करने का अभियान चलाया जायेगा। सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 23 जनवरी को मोबाइल फोन के प्रयोग एवं एवं डंकन ड्राइविंग के विरूद्ध जागरूकता अभियान व परिवहन निगम अपने चालकों परिचालकों की नशा करके बस चलाने एवं ओवरस्पीडिंग के विरूद्ध चेंकिग कर उन्हें जागरूक करने की कार्यवाही की जायेंगी। उन्होने बताया कि 25 जनवरी को लेन ड्राईविंग एवं रांग साइड ड्राईविंग के संबध में जागरूकता अभियान जिसमें परिवहन निगम के चालकों की सहभागिता भी सुनिश्चित की जायेगी। साथ ही लोक निर्माण विभाग दिशा सूचकों ओर डार्क जोन के बारे में जानकारी दी जायेंगी।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 26 जनवरी को ध्वजारोहण के पश्चात् संविधान की प्रतिज्ञा साथ-साथ सडक सुरक्षा की शपथ दिलायी जायेगी। उन्होने बताया कि 27 जनवरी को जनपद स्तर पर ट्रक ऑपरेटर्स एसोसिएशन के द्वारा सडक सुरक्षा के सम्बन्ध में कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा एवं सभी बस स्टेशनो पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा चालको-परिचालको एवं यात्रियों को सडक सुरक्षा एवं कोविड क सम्बन्ध में जागरूक किया जायेगा। तथा हेल्मेट एवं सीटबेल्ट के बारे में लोगो को जागरूक करना एवं चेकिंग अभियान चलाया जायेगा। उन्होने बताया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा अवेैध ढाबा हटाये जाने की कार्यवाही में पुलिस विभाग सहयोग प्रदान करेगा। उन्होने बताया कि 28 जनवरी को बस यूनियन के माध्यम से बसो के चालकों-परिचालकों को सडक सुरक्षा के सम्बन्ध में प्रशिक्षित किया जायेगा। उन्होने बताया कि 29 जनवरी को ऑटो, टैम्पो, टैक्सी ऑपरेटर्स एसोसिएशन के सहयोग से चालकों को सडक सुरक्षा के सम्बन्ध में जागरूक किया जायेगा। उन्होने बताया कि मोबाइल फोन का प्रयोग एंव ड्रंकन ड्रांइविंग के सम्बन्ध में लोगो को जागरूक करना एवं चैकिंग अभियान चलाया जायेगा।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 30 जनवरी टैक्टर चालको को विभिन्न भटठा, मडियो, चीनी मिलो पर जागरूक एवं प्रशिक्षित किया जायेगा। चीनी मिलो के सहयोग से टैक्टरो-ट्रालियो में रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगवाया जाये। उन्होने बताया कि लोक निर्माण द्वारा अवैध ढाबा हटाये जाने की कार्यवाही में पुलिस विभाग सहयोग प्रदान करेगा। परिवहन निगम की बसो में अधिकारियों द्वारा सडक सुरक्षा मानको-सीटबेल्ट, बैक मिरर, बैक लाइट, इंडीकेटर, फ्रांग लाइट व रेट्रो रिफ्लेटिव टेप के लगे होने का सत्यापन तथा न लगा पाये जाने पर लगाये जाने की कार्यवाही की जायेगी। उन्होने बताया कि 31 जनवरी को रविवार के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य मेला में चालको, परिचालको, यातायातो पुलिस कर्मिया, प्रवर्तन सिपाही का परिवार सहित सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 1 फरवरी को एनसीसी कैडेट, एनएसएस एवं यातायात कर्मियो के छात्र छात्राओ के सहयोग से प्रमुख चैराहो पर पैदल यात्रियो को सडक सुरक्षा के प्रति प्रशिक्षित एवं जागरूक किया जायेगा। इसी प्रकार 2 फरवरी को परिवहन निगम की बसो में अधिकारियों द्वारा सडक सुरक्षा मानको-सीटबेल्ट, बैक मिरर, बैक लाइट, इंडीकेटर, फ्रांग लाइट व रेट्रो रिफ्लेटिव टेप के लगे होने का सत्यापन तथा न लगा पाये जाने पर लगाये जाने की कार्यवाही की जायेगी। उन्होने बताया कि 3 फरवरी को दिव्यांगजनो हेतु ड्रांइविंग लांईसेंस एवं अन्य प्रावधानों के सम्बन्ध में जागरूकता कार्यक्रम किया जायेगा। 4 फरवरी को सेव लाइफ फाउण्डेशन द्वारा वाहन चालको को फर्स्ट रिस्पाॅण्डर की ट्रेनिंग होगीं। उन्होने बताया कि 5 फरवरी को एनएचएआई के सहयोग से टोल प्लाजा पर रोड सेफ्टी कार्यक्रम एवं चालको का हेल्थ चेकप कैम्प का आयोजन किया जायेगा। इसी प्रकार 6 फरवरी को सर्वाजनिक यात्री सेवायान से यात्रा के दौरान महिलाओ की सुरक्षा एवं सम्मान हेतु जागरूक किया जाये स हेतु परिवहन निगम अपने चालको-परिचालको को भी जागरूक करेगा।
सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि 7 फरवरी को रविवार के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य मेला में चालको, परिचालको, यातायात पुलिस कर्मियों, प्रवर्तन सिपाही का परिवार सहित सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा। उन्होने बताया कि 8 फरवरी को हेल्मेट एवं दोपहिया में तीन सवारी के विरूद्व चेंकिंग अभियान चलाया जायेगा। 09 फरवरी को सीट बेल्ट एवं मोबाइल के विरूद्व चेंकिंग अभियान चलाया जायेगा। उन्होने बताया कि 10 फरवरी को रांग साइड ड्राइविंग एवं नो पार्किंग के विरूद्व चैकिंग अभियान चलाया जायेगा। इसी प्रकार 11 फरवरी को वाहनो में काॅली फिल्म, हूटर सायरन के विरू़द्व चेंकिंग अभियान, 12 फरवरी को ओवरलोडिंग एवं रेट्रो रिफलेक्टिव टेप के सम्बन्ध में चेकिंग अभियान, 13 फरवरी को सामान्य बीमा कम्पनी (जीआईसी) के सहयोग से सडक सुरक्षा में मोटर वाहन बीमा विषय पर वर्कशाॅप का आयोजन किया जायेगा। उन्होने बताया कि 14 फरवरी को रविवार के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य मेला में चालको, परिचालको, यातायातो पुलिस कर्मियों, प्रवर्तन सिपाही का परिवार सहित सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा। 15 फरवरी को IRSc~ ,oa स्लोवे के सहयोग में सडक सुरक्षा सम्बन्धी विभिन्न गतिविधियों का आयोजन, 16 फरवरी को जनपद स्तर पर सडक सुरक्षा के प्रति कार्य करने वाली गैर सरकारी संस्थाओ द्वारा नवोन्मेषी कार्यक्रम की प्रस्तुति ( ऑनलाइन/ ऑफ़लाइन) जिसमे परिवहन निगम के जनपद स्तरीय अधिकारी अपना प्रतिभाग सुनिश्चित करेगे। उन्होने बताया कि 17 फरवरी को समापन समारोह में जिला स्तर पर गुड सेमेरिटन, ट्रैफिक पुलिस, चिकित्सको को रोड सेफ्टी चैम्पियन के तौर पर सम्मानित करना, जिसमें परिवहन निगम जनपद से अपने चालको-परिचालको में से तीन श्रेष्ठ चालको परिचालको को भी सम्मानित करायेगा। जनपद में सडक दुर्घटना में बिछडे हुए परिजनो की स्मृति में कैंडल मार्च निकाला जायेगा।

Related posts

Leave a Comment