पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने किया जिला पंचायत के सामुदायिक भवन का शिलान्यास

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला पंचायत आवास कॉलोनी में आज यूपी सरकार के पंचायतराज मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने सामुदायिक भवन का ईंट रखकर व फीता काटकर शिलान्यास किया। शिलान्यास में बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक व जिला पंचायत अध्यक्ष आँचल तोमर ने भी संयुक्त रूप से शिलान्यास किया। कार्यक्रम में मंत्री भूपेंद्र चौधरी का अध्यक्ष व विधायक ने फूलों का बुके देकर सम्मानित व स्वागत किया।कार्यक्रम में जिला पंचायत के 5 साल के विकास कार्यो के लेखा जोखा पर जिला पंचायत अध्यक्ष व सदस्यों को मुख्यातिथि ने शुभकामनाएं दी। मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने जिला पंचायत अध्यक्ष को प्रदेश में सर्वश्रेष्ठ विकास कार्य करने व प्रदेश में प्रथम आने पर पुरस्कार दिया। पंचायतराज मंत्री ने अपने भाषण में यूपी सरकार व भारत सरकार की योजनाओं व उपलब्धिया गिनवाई। मंत्री ने प्रधानमंत्री की स्वच्छता अभियान, शौच मुक्त भारत,सामुदायिक शौचालय, बिजली, पानी, गांव व पंचायतों व नगरों में किये गए विकास कार्य,24 घण्टे बिजली, रोजगार, किसानों की दुगनी आय, किसानों के खातों में अनुदान आदि योजनाओं का उल्लेख कर उपलब्धिया बताई। मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि जबसे बीजेपी की सरकार केंद्र और राज्यो में आई है तब से अपराधियो ओर घटनाओं पर अंकुश लगा है, माँ बेटियों की रक्षा के लिए सरकार प्रतिबध है, लगातार महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार काम कर रही है।

शिलान्यास कार्यक्रम में पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, जिला पंचायत अध्यक्ष आँचल तोमर, शामली विधायक तेजेन्द्र निर्वाल, डीसीडीएफ के चेयरमैन सतपाल पाल, जिला पंचायत अधिकारी सुधीर श्रीवास्तव, अपर मुख्य अधिकारी जितेंद्र कुमार, अभियंता कमल किशोर, जिला पंचायत अध्यक्ष पति अर्जुन तोमर, जिला पंचायत सदस्य सत्यव्रत बालियान, हरीश राठी, अमित राठी, अनिल त्यागी, संदीप मलिक, हरेन्द्र शर्मा , अक्षय शर्मा सहित जिला पंचायत सदस्य जिला पंचायत ठेकेदार,व जिला पंचायत कर्मचारी मौजूद रहे।

इससे पूर्व सर्किट हाउस में पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह ने क्षेत्रीय अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी के साथ बरेली और आंवला जिले के भाजपा नेताओं के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि 15 फरवरी को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद मार्च के अंत या फिर अप्रैल के पहले सप्ताह में ग्राम पंचायत के चुनाव सम्पन्न करवा लिए जाएंगे। इसके बाद क्षेत्र पंचायत और फिर जिला पंचायत का चुनाव कराया जाएगा। मई में त्रिस्तरीय चुनाव सम्पन्न हो जायेंगे। पंचायत चुनाव में आबादी के हिसाब से आरक्षण रहेगा। परिसीमन का कार्य पूरा हो चुका है। वार्डों के हिसाब से मतदाता सूची तैयार की जा रही हैं। बीस जनवरी के बाद जिला पंचायत, ब्लाकों का आरक्षण जिले से तय किया जायेगा। उन्होंने बताया की पार्टी ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं की सक्रियता, गांवों में विकास कार्यों और सरकार की चार साल की उपलब्यिों के बल पर परचम लहरायेगी। पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि 15 फरवरी तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों की अधिसूचना जारी हो जायेगी। मार्च के अंतिम सप्ताह से लेकर अप्रैल के प्रथम सप्ताह तक पंचायत चुनाव संपन्न हो जायेंगे। मई तक जिला पंचायत अध्यक्षों और ब्लाक प्रमुखों की भी चुनावी प्रक्रिया पूरी हो जायेगी। उत्तर प्रदेश में भाजपा समेत कोई राजनीतिक दल सिंबल नहीं देगा, लेकिन पार्टी समर्थित प्रत्याशियों को उतारा जायेगा। भाजपा ग्रामीण क्षेत्रो में अपनी चार साल की उपलब्धियों और कार्यकर्ताओं की सक्रियता के बल पर चुनाव जीतेगी।

Related posts

Leave a Comment