बच्चों की गुणवत्तापूर्ण देखभाल एवं शिक्षा के संबध में प्रशिक्षण का आयोजन

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। उच्च प्राथमिक विद्यालय कम अपोजिट सरवट में गुणवत्तापूर्ण देखभाल एवं शिक्षा (ई0सी0सी0ई0) संबंधित प्रशिक्षण खंड शिक्षा अधिकारी सविता डबराल के नेतृत्व में आरंभ किया गया। जिसमें एक बैच में 20 आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। इस प्रशिक्षण का शुभारंभ अपर जिलाधिकारी फाइनेंस आलोक कुमार द्वारा किया गया। उक्त प्रशिक्षण में अपर जिलाधिकारी महोदय द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को गुणवत्ता पूर्ण देखभाल एवं शाला पूर्व शिक्षा के संबंध में अपने विचार व्यक्त किए गए। प्रशिक्षण में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी माया राम, जिला कार्यक्रम अधिकारी वाणी वर्मा व बाल परियोजना अधिकारी हसीबा बानो द्वारा भी उक्त योजना के संबंध में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियो को प्रोत्साहित किया गया।

खंड शिक्षा अधिकारी सविता डबरील ने बताया गया कि बच्चों के जीवन में प्रथम 6 वर्ष अत्यंत महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि उनके 85% विकास इसी समय होता है इसी अवधि में गुणवत्तापूर्ण देखभाल एवं शाला पूर्व शिक्षा की अति आवश्यकता होती है। 03 वर्ष से कम आयु के बच्चों की वृद्धि, बौद्धिक एवं सर्वागीण विकास के लिए शुद्ध पौष्टिक खाना स्वच्छ एवं दुर्घटना से सुरक्षित वातावरण, प्यार एवं आदर और बड़े बुजुर्गों से बातचीत जरूरी है। 03-06 आयु वर्ग के बच्चों के जीवन में गुणवत्तापूर्ण देखभाल एवं शाला शिक्षा का सकारात्मक प्रभाव दीर्घकालीन होता है। इस सकारात्मक प्रभाव के लिए उनके जीवन के प्रारंभिक अनुभव बहुत ही मूल्यवान होते हैं क्योंकि इन्हीं अनुभवों से उनके विचार, व्यवहार और स्मृतियों में विकास होता है। शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009 के अंतर्गत 3 से 6 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों को प्राथमिक विद्यालय के लिए तैयार करने हेतु निशुल्क शाला शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रशिक्षण उल्लेख किया गया है। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर नीलम व संतोष कुमारी द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षण के समय व्यवस्था संचालन दिलशाद अहमद प्रधान अध्यापक कम अपोजिट विद्यालय द्वारा किया गया। एकेडमिक रिसोर्स पर्सन के रूप में नगर क्षेत्र मुजफ्फरनगर में नियुक्त श्रीमती हिमानी उपस्थिति रही।

कार्यक्रम को सपल बनाने में शैली छाबड़ा, अलका त्यागी, निलेश पवार, मनोज कौशिक, मोहम्मद आदिल, रिहान अहमद , नसीम अब्बास, रामपाल उपस्थित रहे। व समस्त स्टाफ द्वारा उक्त प्रशिक्षण में सहयोग प्रदान किया गया।

Related posts

Leave a Comment