मुजफ्फरनगर एवं सहारनपुर के दवा व्यापारियों द्वारा नामित सदस्य सुभाष चौहान के नेतृत्व में विभागीय मंत्री धर्म सिंह सैनी से मिला प्रतिनिधिमंडल, दवा पोर्टल की खामियों को दूर करने की मांग

शि.वा.ब्यूरो,  मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर एवं सहारनपुर के दवा व्यापारियों द्वारा नामित सदस्य सुभाष चौहान के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल दवा पोर्टल में खामियों के संबंध में विभागीय मंत्री डॉक्टर धर्म सिंह सैनी से मिला और दवा पोर्टल की खामियों को शीघ्र दूर करने की मांग की। डॉक्टर धर्म सिंह सैनी ने प्रतिनिधिमंडल को शीघ्र सकारात्मक कदम उठाने का आश्वासन दिया।
प्रतिनिधिमंडल ने विभागीय मंत्री डॉक्टर धर्म सिंह सैनी से कहा कि फार्मासिस्ट बेस्ट होलसेल के ड्रग लाइसेंस में 1 साल बाद एक्सपीरियंस के डॉक्यूमेंट अपलोड करने की पोर्टल में व्यवस्था की जाए, गोदाम के लाइसेंस के रिनुअल की पोर्टल में व्यवस्था की जाए, रिटेल के जो लाइसेंस बने हैं, अगर प्रोपराइटर ने डी फार्मा कर लिया है तो वह फार्मासिस्ट स्वयं अपने मेडिकल पर ही नहीं लग पा रहा है, यह भी पोर्टल में व्यवस्था होनी चाहिए। प्रतिनिधिमंडल ने कि फाइल डिलीट करने का अधिकार पहले की तरह मंडल या जिला स्तर पर ही होना चाहिए, जो अभी लखनऊ कर दिया गया है, फाइल में मॉडिफिकेशन का अधिकार जिला स्तर के अधिकारी को होना चाहिए।
सुभाष चौहान ने डॉक्टर धर्म सिंह सैनी से कहा कि जो सरकार की नीति ऑनलाइन की व्यवस्था के माध्यम से भ्रष्टाचार मुक्त एवं सुलभ बनाने की है। पोर्टल में जो खामियां हैं, उनको दूर कराना अति आवश्यक है, क्योंकि उत्तर प्रदेश के लगभग 1 लाख 25 हजार दवा व्यापारी हैं, इसलिए दवा व्यापारी की समस्या का निदान जिला स्तर के अधिकारी या मंडल स्तर के अधिकारी के द्वारा ही पोर्टल के माध्यम से होना चाहिए। लखनऊ में कार्य का भार अधिक होने की वजह से यह संभव नहीं हो पाता है, जिसकी वजह से व्यापारियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
प्रतिनिधि मंडल में महामंत्री संजय गुप्ता, कोषाध्यक्ष सतीश तायल, संजीव वर्मा, दिव्या प्रताप सोलंकी, सुबोध जैन, अरुण प्रताप सिंह सहित सहारनपुर से जिला अध्यक्ष विजय सैनी, महामंत्री सुनील ठाकुर, हरदेव सैनी संरक्षक, विवेक चौहान, कमलजीत सिंह, अजय मलिक, ग्रीस तलवार, विपिन ठाकुर, सनी अरोरा, संजीव गक्कड़, विवेक शर्मा, अंशुल, आशीष मित्तल, मोहम्मद जाकिर, विपिन ठाकुर, अनिल गुप्ता, वरुण गोयल, अमरीश ठाकुर, नीरज कॉलरा, अजय चावला, सुनील पुंडीर, गुलरेज आलम, विपिन मलिक आदि दवा व्यापारी मुख्य रूप से मौजूद रहे।
बता दें कि मुजफ्फरनगर केमिस्ट एंड ड्रजिस्ट एसोसिएशन के माध्यम से संगठन प्रशासन से अपनी मांग कर चुका है। 6 नवंबर को जिला परिषद मार्केट में एक मीटिंग कर ड्रग प्रशासन को एवं स्वतंत्र प्रभार मंत्री कपिल देव अग्रवाल से विसंगतियों को दूर करने की मांग कर चुका है। इसके बाद कुछ विसंगतियों को सुधार दिया गया है, लेकिन मुख्य विसंगतियों का समाधान अभी तक नहीं हुआ है।

Related posts

Leave a Comment