एक पत्र सांता क्लॉज के नाम

दिलीप भाटिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

डियर सांता! हैप्पी क्रिसमस। 26 दिसंबर को मैं 74 वें वर्ष में प्रवेश कर रहा हूं। इस जन्मदिन पर मेरा संकल्प है कि राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय थमलाव में 2000 दो हजार रुपए व राजकीय प्राथमिक विद्यालय गुर्जर बस्ती में 1000 एक हजार रुपए की धनराशि विद्यार्थियों की शिक्षा में गुणवत्ता हेतु अर्पित कर अपना जन्मदिन सार्थक करूं। इस समय शिक्षण संस्थानों में शीत कालीन अवकाश चल रहा है, इसलिए जनवरी के प्रथम सप्ताह में स्कूल खुलने पर इन स्कूलों की नाजिमा सैयद एवम आकांक्षा सोनी को यह छोटी सी शगुन अर्पित करूंगा, ताकि विद्यार्थियों की शिक्षा में गुणवत्ता हेतु स्टेशनरी अथवा अन्य कोई उपयोगी वस्तु खरीद सकें। बच्चे भगवान का रूप होते हैं। बच्चों का आशीर्वाद व शुभकामना मुझे बच्चों की शिक्षा में सुधार हेतु सहयोग करते रहने की प्रेरणा देता है। मेरा जन्मदिन का दिन तो सार्थक हो ही जाता है।
रावतभाटा, राजस्थान

Related posts

Leave a Comment