रोटरी भवन में मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम 2017 विषय पर विधिक साक्षरता शिविर आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण से प्राप्त कलेन्डर के अनुसार  जनपद न्यायाधीश व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष राजीव शर्मा के निर्देशन में राॅटरी भवन में मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम 2017 विषय पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सलोनी रस्तोगी के द्वारा उपस्थित समस्त आम जनमानस को बताया गया कि यदि कोई मानसिक रूप से विकृत व्यक्ति पुलिस को मिलता है तो वह मजिस्ट्रेट के समक्ष उसे पेश करेगे तथा मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट उसे मानसिक स्वास्थ्य केन्द्र भेजने का आदेश पारित करते है। अगर कोई  बिना रजिस्ट्रेशन के मानसिक स्वास्थ केन्द्र चलाते है तो 5 हजार से 5 लाख तक जुर्माना हो सकता है। एक्ट के प्रावधानों का उल्लघंन करने पर 6 माह से 2 साल तक की सजा व 10 हजार से 5 लाख तक का जुर्माना हो सकता है।

सलोनी रस्तोगी ने कहा कि बालिकाओ-महिलाओं के कल्याण व सुरक्षा के सम्बन्ध में बाल विवाह निषेध अधिनियम 2006, घरेलू हिंसा से संरक्षण अधिनियम 2005 आदि अनेक अधिनियम बनाये गये है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को कानून द्वारा अनेको अधिकार दिये गये है, लेकिन जागरूकता की कमी है। महिलाओं को जागरूक करने का कार्य जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा किया जा रहा है, यदि कोई महिला मुकदमें की पैरवी आर्थिक स्थिति के कारण करने में असमर्थ है तो उसे जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में आवेदन देने पर निः शुल्क अधिवक्ता उपलब्ध कराया जायेगा। शिविर में उपस्थित आम जनमानस को संविधान में दिये गये मौलिक कर्तव्यों व कोविड -19 करोना वायरस के बारे मे जानकारी देते हुए जागरूक किया गया। सलोनी रस्तोगी ने अवगत कराया कि दिनांक 18.10.2020 दिन रविवार को माईक्रो लोक अदालत का आयोजन दीवानी न्यायालय परिसर व वाहृय न्यायालय बुढाना में किया जायेगा, जिसमें छोटे अपराधिक मामलों का निस्तारण किया जायेगा। दिनांक 01.11.2020 को पारिवारिक न्यायालय तथा मोटर वाहन दुर्घटना अधिकरण में ई-लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा, जिसमें सुलह-समझौते के आधार पर मामले निपटाये जायेगें।

इस अवसर पर सदस्य जेजे बोर्ड बीना शर्मा, अध्यक्ष आईडब्लूसी इरा नीलिमा शर्मा, सचिव ऊषा गर्ग, डा0 एमएल गर्ग, डाॅ0 करण, राॅटरी अरूण गर्ग, राॅटरी रविन्द्र सिंह, राॅटरी प्रभात सी0 शर्मा, सुभाष भारद्वाज एडवोकेट, निधिष राज गर्ग, अरविद गर्ग, गीता भारद्वाज, भावना, अंजू, शिल्पी आदि उपस्थित रहे।
श्रीमती सलोनी रस्तोगी, सचिव द्वारा यह भी

Related posts

Leave a Comment