रोजगार का सवाल हल करने को युवा मंच ने मुख्यमंत्री योगी को भेजा पत्र, 25 दिसम्बर से प्रदेश स्तरीय अभियान चलाने की चेतावनी 

शि.वा.ब्यूरो, प्रयागराज। प्रदेश में गहराते रोजगार संकट के हल के प्रति योगी सरकार के गैर जिम्मेदाराना रवैया और बेरोजगारों के प्रति बरती जा रही संवेदनहीनता के चलते युवाओं में भारी रोष व्याप्त है और उन्होंने 25 दिसम्बर से प्रदेश स्तरीय अभियान चलाने का ऐलान किया है। इसकी जानकारी  युवा मंच अध्यक्ष अनिल सिंह व महासचिव अमरेंद्र सिंह बाहुबली ने देते हुए कहा कि रोजगार के सवाल पर अभियान चलाने का निर्णय प्रतियोगी छात्रों और संगठनों से व्यापक विचार विमर्श के बाद लिया गया है। उन्होंने कहा कि युवाओं को किसान आंदोलन ने प्रेरित किया है और इसी तरह रोजगार के सवाल पर भी देशव्यापी आंदोलन की जरूरत युवा महसूस कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री को प्रेषित पत्र में संज्ञान में लाया गया है कि विगत 4 साल से शिक्षक भर्ती का कोई भी नया विज्ञापन नहीं आने से युवाओं में गहरी निराशा व रोष व्याप्त है। सरकार के प्रतिनिधि ने सुप्रीम कोर्ट में खुद जानकारी दी कि बेसिक स्कूलों में 97 हजार सहायक अध्यापक के पद खाली हैं जबकि प्रधानाचार्य के एक लाख से ज्यादा पदों को खत्म किया जा चुका है। इसी तरह टीजीटी-पीजीटी के 40 हजार पदों का अधियाचन गत वर्ष चयन बोर्ड आने के बाद 60 फीसद पदों में कटौती कर 29 अक्टुबर 2020 को जो विज्ञापन  जारी किया गया था उसे भी निरस्त कर दिया गया। यही हाल उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा आयोग और तकनीकी विभागों का है। यूपीपीसीएल के तकनीशियन पदों का विज्ञापन ही रद्द कर दिया गया।
युवा मंच पदाधिकारियों ने कहा कि योगी सरकार द्वारा रोजगार के नाम पर किये जा रहे प्रोपैगैंडा की जमीनी हकीकत से युवा वाकिफ हैं, इसलिए योगी सरकार प्रोपैगैंडा के बजाय रोजगार के सवाल को हल करने के लिए ठोस कदम उठाये। ऐसा करने के बजाय शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन करने पर दमन की कार्यवाही की जा रही है, आतंक व दहशत का माहौल पैदा कर दिया गया है इससे युवाओं का विक्षोभ बढ़ रहा है।  उन्होंने कहा कि रोजगार अधिकार के अभियान में किसानों के आंदोलन पुरजोर समर्थन किया जायेगा। अभियान की कार्ययोजना तैयार करने के लिए आगामी 25 दिसंबर को अपरान्ह 3 बजे से सलोरी स्थित दुर्गा पार्क में छात्रों की मीटिंग बुलाई गई है।
उन्होंने चेतावनी दी कि अगर 31 दिसंबर तक सरकार ने सभी विभागों में रिक्त पदों पर विज्ञापन जारी करने, चयन प्रक्रिया शुरू करने और रोजगार के सवाल को हल करने के लिए ठोस कदमों की घोषणा नहीं की तो जनवरी 2021 में आंदोलन का आगाज होगा। युवा मंच के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य इंजी राम बहादुर पटेल ने कहा कि प्रदेश भर के तकनीकी छात्र भी रोजगार के लिए शुरू किये जा अभियान में शिरकत करेंगे मीटिंग में युवा मंच के अध्यक्ष अनिल सिंह, महासचिव अमरेन्द्र सिंह, आदर्श सिंह,बंटी पाण्डेय, अभिषेक पाठक,अरविंद मौर्या, रवि प्रकाश, रमेश कुमार रंजन, उमा शंकर सिंह, प्रदीप सिंह, जगदीश पटेल, उदय राज सिंह, मुकेश कुमार सिंह, आदि उपस्थित रहे ।

Related posts

Leave a Comment