बाइस दिस को गणित दिन

डॉ. दशरथ मसानिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

बाइस दिस को गणित दिन, रामानुज पहिचान।
दिन तो छोटा होत है, लंबी रात मसान।।1
कात्यायन अरु पिंगला, जयदेव महावीर।
भास्कराचार्य श्रीधरा, ब्रह्मगुप्त गणधीर।‌।2
सैम पितरोद श्रीधरन, वर्गिस कुरियन साथ।
मोक्ष गुंडम भाटिया, अरु अनंत रघुनाथ।।3
पइथोगोरस कह गये, तिरभुज है समकोण।
लंब अआधार कर्ण को, नही जानता कौन।।4
राका रमन अरु कलाम, कल्पना का प्रकाश।
गणित भरोसा मानके, सुनिता उड़ी अकाश।।5
लीलावति का गणित है, भास्कर रचा विधान।
संस्कृत भाषा में लिखा, कहत है कवि मसान।।6
अस्सी दोहा में लिखे, हिन्दी किया बखान।
गणित ज्ञान को गाइये, कहत हैं कवि मसान।।7
23 गवलीपुरा आगर, (मालवा) मध्यप्रदेश

Related posts

Leave a Comment