सीएमएस में आयोजित चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर ओलम्पियाड ‘ई-कोफास-2020’ का दूसरा दिन, देश-विदेश के छात्रों ने किया अपने ज्ञान-विज्ञान का जोरदार प्रदर्शन किया

 

शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल राजेन्द्र नगर (प्रथम कैम्पस) द्वारा ऑनलाइन आयोजित चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर ओलम्पियाड ‘ई-कोफास-2020’ के दूसरे दिन आज रूस, जार्डन, बांग्लादेश, ओमान, कतर एवं भारत के विभिन्न राज्यो के प्रतिष्ठित विद्यालयों की प्रतिभागी छात्र टीमों ने विभिन्न रोचक व ज्ञानवर्धक प्रतियोगिताओं में न सिर्फ अपने ज्ञान-विज्ञान का लोहा मनवाया अपितु एक-दूसरे के साथ अपने विचारों को भी साझा करते हुए विभिन्न देशों की संस्कृति व सभ्यता से भी रूबरू हुए। इस अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर ओलम्पियाड के दूसरे दिन आज देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने वाद-विवाद, लोगो डिजाइनिंग एवं माॅडल मेकिंग आदि प्रतियोगिताओं के माध्यम से अपने ज्ञान का अभूतपूर्व प्रदर्शन कर सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। विदित हो कि इस अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर ओलम्पियाड में विश्व के 6 देशों की 50 से अधिक छात्र टीमें प्रतिभाग कर रही हैं।

प्रतियोगिताओं का सिलसिला आज सर्वप्रथम जूनियर वर्ग की काॅन्फैबुलर (वाद-विवाद) प्रतियोगिता से प्रारम्भ हुआ। जिसका विषय था, ‘कम्प्यूटर टुडे विल लीड टु पेपरलेस क्लासरूम टुमारो’। इस प्रतियोगिता में देश-विदेश की 20 छात्र टीमों ने अपने ज्ञान व रचनात्मक सोच का आलोक बिखेरा और अपने सारगर्भित विचारों से सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। प्रतिभागी छात्र टीमों ने 3 मिनट के समय में विषय के पक्ष अथवा विपक्ष में अपने विचार रखे।  विषय के पक्ष में बोलते हुए एक प्रतिभागी छात्र ने कहा कि तकनीक से सिर्फ वर्चुअल वल्र्ड में ही नहीं अपितु वास्तविक दुनिया में भी चमत्कार होते हैं। अब आपको अपने आस-पास के अलावा पूरी दुनिया की जानकारी घर बैठे ही मिल जाती है। विषय के विपक्ष में बोलते हुए तकनीक से क्राइम में बहुत बढ़ोत्तरी हो गई है और इससे क्रिमिनल्स को बहुत अवसर मिल रहे हैं अपराध करने में, साथ ही लोगों में बेरोजगारी व असुरक्षा की भावना भी बहुत बढ़ गई है।  ‘क्रिएटर्स (लोगो डिजाइनिंग) प्रतियोगिता भी आज के आकर्षण का केन्द्र रही। इस प्रतियोगिता में छात्रों की सृजनात्मक प्रतिभा व रचनात्मक सोच देखते ही बनती थी। ‘कोफास-2022’ थीम पर आधारित इस प्रतियोगिता के फाइनल राउण्ड में 10 छात्र टीमों ने जगह बनाई जिसमें रूस, जार्डन, बांग्लादेश व देश के विभिन्न प्रान्तों के प्रतिभागी छात्रों ने गागर में सारग उड़ेल कर रख दिया। इस प्रतियोगिता में छात्रों ने विज्ञान के साथ ही हरी-भरी धरती एवं विश्व मानवता के बीच अद्भुद सामन्जस्य का उदाहरण प्रस्तुत किया। इसी प्रकार, टीनोवेशन्स (साइंस माडल मेकिंग) प्रतियोगिता भी सभी के आकर्षण का केन्द्र रही, जिसमें प्रतिभागी छात्रों ने बेकार पड़े कम्प्यूटर के अनुपयोगी सामानों से शानदार व उपयोगी माडल्स बनाकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। यह प्रतियोगिता ‘ट्रान्सफार्मिंग कम्प्यूटर जंक इनटू गुड यूज’ विषय पर आयोजित हुई, जिसमें फाइनल राउण्ड में देश-विदेश की 10 टीमों ने अपने स्वनिर्मित विज्ञान माडलों का प्रदर्शन किया, साथ ही, निर्णायम मण्डल द्वारा पूछे गये सवालों का जवाब दिया।

सीएमएस के मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि प्रतियोगिताओं का दौर कल भी ऑनलाइन जारी रहेगा। कल आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं में रेन्डीशन (पेपर प्रजेन्टेशन), ई-कोफास डूडल एवं काॅस्टेक (कोरियोग्राफी) आदि प्रमुख हैं। प्रतियोगिताओं का दौर प्रातः 9.30 बजे से प्रारम्भ होगा।

Related posts

Leave a Comment