मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत ‘हक की बात- जिलाधिकारी के साथ’ कार्यक्रम आयोजित, डीएम ने किया शंकाओं व जिज्ञासाओं का निवारण

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जनपद में मिशन शक्ति के अंतर्गत आज जिला पंचायत सभागार में ‘हक की बात-जिलाधिकारी के साथ’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में महिलाओं से जुडे मुद्दों, समस्याओं व यौन हिंसा, लैंगिक असमानता, घरेलू हिंसा तथा दहेज आदि के सम्बंध में प्रश्नों व संरक्षण, सुरक्षा तंत्र, सुझावों, सहायताओं के साथ-साथ बालक-बालिकाओं के लिए मनोचिकित्सा व कैरियर काउंसिलिंग के विषय में बालक-बालिकाओं, छात्राओं, महिलाओं द्वारा जिलाधिकारी से सीधा संवाद किया गया। मिशन शक्ति के अन्तर्गत आज ‘हक की बात-जिलाधिकारी के साथ’ कार्यक्रम में दो घंटे के पारस्परिक संवाद का आयोजन किया गया, जिसमें जिलाधिकारी से स्थानीय मुद्दों के अलावा, सुरक्षा, संरक्षण, यौन हिंसा व घरेलू हिंसा, पोषण, स्वास्थ्य व अन्य मुद्दों पर सीधा संवाद कर अपनी अपनी जिज्ञासाओें को शान्त किया।

जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने कहा कि यह कार्यक्रम आगे भी जारी रहेगा। इस आयोजन से महिलाओं को अपनी समस्याओं को उचित फोरम पर उठाने का जहाँ मौका मिलेगा वहीँ अपनी बात को उठाने में आड़े आने वाली हिचक भी दूर होगी। महिलायें तथा बच्चे या उनकी ओर से कोई भी घरेलू हिंसा, दहेज शोषण, शारीरिक और मानसिक शोषण, लैंगिक असमानता, बाल विवाह, बाल श्रम, भिक्षावृत्ति, यौनिक हिंसा व छेड़छाड़ आदि मुद्दों पर बात करने के साथ ही इससे निपटने का सुझाव भी जिलाधिकारी के सामने रख सकते हैं। इसके अलावा पोषण और स्वास्थ्य सम्बन्धी मुद्दों तथा अगर किसी महिला या बच्चे की किसी प्रकरण में कहीं सुनवाई नही हो रही है तो भी जिलाधिकारी से सीधे बात कर सकते हैं। उन्होने कहा कि प्रदेश में महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन के लिए चलाये जा रहे ‘मिशन शक्ति’ अभियान को हर माह अलग थीम पर मनाने का निर्णय लिया गया है।

इस माह की थीम-‘मानसिक स्वास्थ्य तथा मनोसामाजिक मुद्दों से सुरक्षा और सपोर्ट’ तय की गयी है। महिला कल्याण विभाग द्वारा मिशन शक्ति के तहत बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग के साथ संयुक्त कार्ययोजना बनाकर इसे चलाया जा रहा है। इससे पहले अभियान के तहत किशोर-किशोरियां स्थानीय अधिकारियों से ‘शक्ति संवाद’ के तहत अपनी बात रख चुके हैं। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ समृद्वि त्यागी, थानाध्यक्ष महिला थाना मोनिका चौहान सहित अन्य अधिकारी, महिलाएं एवं बालिकाएं उपस्थित थी।

Related posts

Leave a Comment