जिला पूर्ति अधिकारी ने की राशन कार्ड डाटाबेस में आधार सीडिंग करने की अपील

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जनपद में 23 नवंबर 2020 तक 501589 राशन कार्ड प्रचलित है, जिनमें कुल 2145602 यूनिटें दर्ज हैं। राशन कार्डों में शासन द्वारा निर्देशासानुसार ई-पाॅस के माध्यम से आधार ऑथेन्टिकेशन द्वारा वितरण कराया जा रहा है। शासन द्वारा शतप्रतिशत कार्डधारकों को ई-पाॅस मशीन के माध्यम से आधार ऑथेन्टिेकेशन से खाद्यान्न वितरण कराने के संबंध में विशेष जोर दिया जा रहा है, जिसके लिये शत-प्रतिशत कार्डधारकों का आधार सीड होना आवश्यक है। राशन कार्ड में आधार संख्या की डुप्लीकेसी की समस्या के निराकरण एवं राशन कार्ड पोटेबिलिटी हेतु आधार सीडिंग अपरिहार्य है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार एवं शासन स्तर से इस कार्य की समीक्षा की जा रही है इसलिए शीघ्रातिशीघ्र शतप्रतिशत राशन कार्ड डाटाबेस में आधार सीडिंग का कार्य कराया जाना आति आवश्यक है। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि खाद्य तथा रसद आयुक्त द्वारा भी इस सबंध में निरन्तर निर्देशित किया जा रहा है।

जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जनपद में प्रचलित कुल 2145602 राशन कार्ड यूनिटों में से 2111841 यूनिटों में ही आधार कार्ड संख्या फीड है। 33761 यूनिटों में आधार कार्ड फीड नहीं है। इसी प्रकार जनपद में प्रचलित राशन कार्डो की कुल 2145602 यूनिटों में से 2051655 यूनिटों में ही आधार कार्ड सीड हुए हैं। 93947 यूनिटों में आधार सीडिंग का कार्य अभी शेष है। उन्होंने बताया कि दिसम्बर 2020 के अन्त तक शासन के निर्देशानुसार शतप्रतिशत आधार कार्ड सीडिंग का कार्य पूर्ण कराया जाने के लिये बचे हुए यूनिटों में आधार कार्ड सीडिंग का कार्य आपूर्ति विभाग द्वारा कराया जा रहा है। जिला पूर्ति अधिकारी ने जनपद के समस्त कार्डधारकों को सूचित किया है कि यदि उनके राशन कार्ड के किसी भी सदस्य में आधार कार्ड फीड या सीड न हो, तो वह तत्काल अपने निकटवर्ती जनसेवा केन्द्र से सम्पर्क कर अपने राशन कार्ड में सभी यूनिटों में आधार सीडिंग का कार्य पूर्ण करा ले और जनसेवा केन्द्र से फीड/सीड कराये गये राशन कार्ड की छायाप्रति तत्काल तहसील स्तरीय आपूर्ति कार्यालयों में उपलब्ध करा दें, जिससे आधार सीडिंग के कार्य को पूर्ण कराया जा सके। उन्होंने इस कार्य में ग्राम प्रधान, वार्ड मेम्बर, ग्राम पंचायत संचिव से सहयोग प्रदान करने कि अपील कि है।
जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि यदि एक सप्ताह के अन्दर किसी भी राशन कार्ड में आधार कार्ड सीडिंग का कार्य पूर्ण नहीं पाया जाता है तो यह मानते हुए कि राशन कार्ड की यह अन्य अनसीडेड यूनिट अपात्र है और उस यूनिट के निरस्तीकरण की कार्यवाही कर दी जायेगी। यदि किसी भी कार्डधारक को इस संबंध में किसी भी जानकारी या सहयोग की आवश्यकता है तो वह किसी भी समय तहसील स्थित आपूर्ति कार्यालय, क्षेत्रीय खाद्य कार्यालय, मुजफ्फरनगर या जिला पूर्ति कार्यालय में सम्पर्क कर सकता है। उनकी समस्या का तत्काल निस्तारण सुनिश्चित कराया जायेगा। इस पूरी प्रक्रिया में यह सुनिश्चित किया जायेगा कि किसी भी पात्र कार्डधारक को राशन प्राप्ति से वंचित न रहे।

 

Related posts

Leave a Comment