सरकार ई-स्टाम्प को दे रही बढावा

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के निबंधन महानिरीक्षक द्वारा निर्देश दिये गये ई- स्टाम्प जारी होने  वाले अधिकृत संग्रह केन्द्रो एवं अधिकृत बैंकों के साथ बैठक आयोजित करके आवश्यक एवं महत्वपूर्ण तथ्यों की जानकारी दी जाये। इस सम्बन्ध में तहसील सदर सभागार में आयोजित कार्यशाला में अधिकृत ई-स्टाम्प संग्रह केन्द्र के स्टाम्प विक्रेताओं को आवश्यक बिन्दुओं के सम्बन्ध में बताया गया।

कार्यशाला में अवगत कराया गया कि सरकार छपे स्टाम्प को समाप्त कर ई-स्टाम्प को बढावा दे रही है। जनपद में 14 अधिकृत संग्रह केन्द्र वर्तमान में स्टाॅक होल्डिंग कार्पोरेशन लि0 द्वारा अधिक् किया गया है। ई-स्टाम्प, छपे स्टाम्प से ज्यादा लाभदायक है। इससे आम आदमी को जालसाजी से राहत मिलेगी और वह व्यक्ति आसानी से इसकी जांच भी कर सकता है। कार्यशाला में यह निर्देश दिये गये कि ई-स्टाम्प जारी करने वाले व्यक्ति को स्टाम्प जारी करते समय उसकी यही से जांच अवश्य कर ले, ताकि उन्हे किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे। यदि कोइ्र स्टाम्प विक्रय करने के लिए अधिकृत होना चाहता है, तो वह आवेदन अवश्य करे ताकि सरकार के अनुसार उसे आईडी जारी की जा सके।

बता दें कि सरकार की मंशा है कि अधिक से अधिक लोगो को रोजगार दिलाया जाये, जिससे लोग ई-स्टाम्प का अधिकृृत केन्द्र के रूप में प्रतिनिधि बनकर लाभ उठा सके। कार्यशाला में समस्त ई-स्टाम्प  अधिकृत संग्रह केन्द्रो को निर्देशित किया गया है। निर्धारित मूल्य से अधिक यदि किसी के द्वारा ई-स्टाम्प निर्गत किया गया तो उसकी अनुज्ञप्ति को निरस्त करने की संस्तुति की जायेगी। कडाई से पालन किये जाने हेतु निर्देश दिये गये। यह भी निर्देश दिये गये कि जनता को रू0 10 व 100 के स्टाम्प उपलब्ध कराये जाये, क्योकि इनकी आवश्कता अधिक रहती है।

Related posts

Leave a Comment