साहित्य दर्शन ई पत्रिका के 11 वें अंक का विमोचन सम्पन्न

शि.वा.ब्यूरो, भवानीमण्डी। अखिल भारतीय साहित्य परिषद भवानीमंडी द्वारा प्रकाशित  के  साहित्य दर्शन  ई-पत्रिका अंक -11 करवा चौथ का विमोचन शुक्रवार को आयोजित ऑनलाइन समारोह में किया गया। परिषद के संयोजक डॉ. राजेश पुरोहित ने बताया कि ऑनलाइन विमोचन समारोह में मुख्य अतिथि राजेश चौऋषिया, कवयित्री, विशिष्ट अतिथि डॉ।.गीता दुबे कवयित्री, निशा जैन निशु कवयित्री,विशेष सानिध्य बाल कवयित्री शुभांगी शर्मा, नम्रता जैन कवयित्री रही। सरस्वती वन्दना राजेन्द्र आचार्य राजन ने की।
मुख्य अतिथि राजेश चौऋषिया के कर कमलों से विमोचन किया गया। उन्होंने विमोचन समारोह में बोलते हुए कहा कि साहित्य दर्शन पत्रिका ने हमारी पौराणिक परम्परा को बखूबी निभाते हुए सबसे प्रिय त्यौहार करवा चौथ पर शानदार विशेष अंक प्रकाशित किया है, इस हेतु सम्पादक डॉ. राजेश पुरोहित जी को बधाई देती हूँ। विशिष्ट अतिथि डॉ. गीता दुबे ने कहा कि हिन्दू संस्कृति में रीति रिवाजों,परम्पराओं ,उत्सवों एवं आस्था उपासना की समृद्ध परम्परा रही है | करवाँ चौथ  आस्था और विश्वास का अनुपम पर्व है, पत्नि का पति की लम्बी उम्र के लिये किया जाने वाला यह कठोर तप सचमुच दाम्पत्य जीवन के परस्पर स्नेह और समर्पण का प्रतीक है ,आज का यह भव्य ऑन लाइन विमोचन इसी आस्था और समर्पण को समर्पित काव्यात्मक भावाजंलि के रूप में है।
मंच संचालन डॉ. राजेश पुरोहित ने बताया कि ई बुक करवाँ चौथ में 14 रचनाकारों की श्रेष्ठतम रचनाऐं शामिल है,रचनाकारों ने रचना के माध्यम से करवाँ चौथ के चन्द्र को शब्दमय अंजुरी समर्पित की है |सचमुच यह संकलन राष्ट्रीय स्तर पर अपनी नई पहचान स्थापित करेगा | सभी रचनाऐं भाव प्रवण,सहज ,सरल  भाषाशैली में है। विमोचन समारोह में बाल कवयित्री के उद्बोधन की सभी रचनाकारों ने प्रशंसा की।

Related posts

Leave a Comment