स्वयं सहायता समूह के सहयोग से आंगनबाडी केन्द्रो पर ड्राई राशन का वितरण

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला कार्यक्रम अधिकारी वाणी वर्मा ने बताया कि शासन की मंशा के अनुरूप स्वयं सहायता समूह के सहयोग से आंगनबाडी केन्द्रो पर ड्राई राशन (चावल, गेंहू एवं दाल), स्किम्ड मिल्क पाउडर एवं देशी घी का वितरण किया जायेगा। 06 माह से 03 वर्ष आयु के बच्चो को प्रति लाभार्थी 01 किग्रा0 चावल, 1.5 किग्रा0 गेंहू एवं 750 ग्राम दाल प्रतिमाह की दर से वितरित की जायेगी। 450 ग्राम देशी घी एवं 400 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर प्रति लाभार्थी का वितरण प्रत्येक त्रैमास में एक बार किया जायेगा।
जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि गर्भवती एवं धात्री महिलाओ तथा 11 से 14 वर्ष की स्कूल न जाने वाली किशोरियो को प्रति लाभार्थी 01 किग्रा0 चावल, 02 किग्रा0 गेंहू, 750 ग्राम दाल प्रतिमाह की दर से वितरित की जायेगी। 450 ग्राम देशी घी एवं 750 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर प्रति लाभार्थी का वितरण प्रत्येक त्रैमास में एक बार किया जायेगा। 06 माह से 06 वर्ष के गम्भीर रूप से कुपोषित बच्चो को प्रति लाभार्थी 1.5 किग्रा0 चावल, 2.5 किग्रा0 गेंहू एवं 500 ग्राम दाल प्रतिमाह की दर से वितरित की जायेगी। 900 ग्राम देशी एवं 750 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर प्रति लाभार्थी का वितरण प्रत्येक त्रैमास में एक बार किया जायेगा। 06 माह से 03 वर्ष के बच्चो को दिये जाने वाले राशन की पैकिंग नीले रंग में, 03 से 06 वर्ष आयु तक के बच्चो को दिये जाने वाले राशन की पैकिंग हल्के हरे रंग में, 06 माह से 06 वर्ष तक के गम्भीर रूप से कुपोषित बच्चो को दिये जाने वाले राशन की पैकिंग लाल रंग में तथा गर्भवती एवं धात्री महिलाओ व 11 से 14 वर्ष की स्कूल न जाने वाली किशोरी बालिकाओ को दिये जाने वाले राशन की पैकिंग गुलाबी रंग में की जायेगी।
उन्होंने बताया कि उक्त राशन स्वयं सहायता समूहो के माध्यम से आंगनबाडी कार्यकत्रियो द्वारा वितरित किया जायेगा। उक्त योजना के अनुश्रवण हेतु जनपद स्तर पर जिला निगरानी समिति, ब्लाॅक स्तर पर ब्लाॅक निगरानी समिति एवं ग्राम स्तर पर ग्राम निगरानी समिति के गठन का प्रावधान है। उक्त योजना के सम्बंध में किसी भी जानकारी हेतु टोल फ्री नम्बर 180018005500 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

Related posts

Leave a Comment