उमा ठाकुर “नधैक” शिमला क्षेत्रीय बोली संवर्धक सम्मान से सम्मानित

शि.वा.ब्यूरो, नई दिल्ली। साहित्य संगम संस्थान के बोली विकास मंच पर आयोजित बोली संवर्धन आंनलाईन वीडियो कवि सम्मेलन में विभिन्न प्रांतों के कवि कवित्रियों के द्वारा शिरकत करने वाले कवि कवित्रियों अनिता मंदिलवार अम्बिकापुर, छत्तीसगढ़, हेमन्त कुमार”अदम” जयपुर राजस्थान खड़ी बोली (हिन्दी), आशा श्रीवास्तव भोपाल मध्यप्रदेश, अनामिका वैश्य आईना लखनऊ हिंदी, उमा ठाकुर नधैक शिमला हिमाचली भाषा, अंकुर तिवारी रुद्रपुर उत्तर प्रदेश क्षेत्रीय भाषा- भोजपुरी, हिंदी ज्योति विपुल जैन बलसाड़ गुजरात, राजू रंजन पाण्डेय हावड़ा, बेस्ट बंगाल क्षेत्रीय बोली-भोजपुरी को क्षेत्रीय बोली संवर्धक सम्मान से नवाजा गया।
यह सम्मान समारोह 04/11/2020 को शाम 07:30 को कुसुम लता कुसुम अध्यक्ष साहित्य संगम संस्थान दिल्ली इकाई की उपस्थिति में सम्पन्न किया गया। कुसुम ने कहा कि साहित्य संगम संस्थान अत्यंत हर्षोल्लास के साथ प्रबुद्ध रचनाकारों‌ को सम्मानित करता है, जो भाषा बोली संवर्धन और संरक्षण हेतु उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं। क्षेत्रीय बोली आॅनलाइन काव्य पाठ में काव्य पाठ करने हेतु संस्थान ऐसे सुधी साहित्यकारों को क्षेत्रीय बोली संवर्धक सम्मान से विभूषित करता है और उज्ज्वल भविष्य की कामना करता है। उपस्थित पदाधिकारियों, क्षेत्रीय बोली संवर्धक सम्मानित मनीषियों को पुनः शुभकामनाएं। .
ज्ञात हो की यह कार्यक्रम प्रत्येक माह के प्रथम रविवार को आयोजित किया जाता है, जिसमें प्रतिभागियों को चयनित करने के लिए पूर्व माह के अंतिम सप्ताह के विज्ञप्ति निकाली जाती है, जहां से चयन किया जाता है। कार्यक्रम में कुमार रोहित रोज,छाया सक्सेना, राजवीर सिंह मंत्र, रुचिका राय, अमित बिजनौरी, सुनीता राठौर, रेवाशंकर कटारे, जय हिन्द सिंह हिंद, बेलीराम कनस्वाल, उमा ठाकुर शिमला, कलावती कर्वा, विनोद वर्मा दुर्गेश उपस्थित थे।

Related posts

Leave a Comment