प्रवर्तना सुलक्ष्य ने प्रथम प्रयास में ही उत्तीर्ण कर ली राष्ट्रीय विधि प्रवेश परीक्षा

शि.वा.ब्यूरो, मेरठ। द अध्ययन स्कूल की छात्रा प्रवर्तना सुलक्ष्य ने राष्ट्रीय विधि प्रवेश परीक्षा क्लैट प्रथम प्रयास में ही उत्तीर्ण कर ली है। प्रवर्तना की अॉल इंडिया रैंक 921 रही है। भविष्य में वह पटियाला विधि विश्वविद्यालय पंजाब से कानून की शिक्षा प्राप्त कर जज बनना चाहती है। प्रवर्तना ने इंटरमीडिएट की परीक्षा भी बिना किसी ट्यूशन और कोचिंग के विज्ञान वर्ग से 97.8 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण की है, जिसमें अंग्रेजी और संगीत विषय में 100 अंक प्राप्त किये थे। इस सत्र में प्रवर्तना अपने स्कूल की हेड गर्ल भी रहीं हैं, इससे पूर्व वह वाइस हैड गर्ल और सांस्कृतिक सचिव भी रही हैं। स्कूल के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन भी किया और गायन, लेखन तथा भाषण प्रतियोगिताओं की विजेता भी रही।

प्रवर्तना अपने से जूनियर कक्षाओं के साथियों की भी पढ़ाई में मदद् करती रहती हैं। हाईस्कूल की परीक्षा भी 94 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण की थी। प्रवर्तना को गायन और लेखन का विशेष शौक है। प्रवर्तना की मां लैफ्टिनेंट (डा.) लता कुमार शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय मेरठ में समाजशास्त्र विषय की एसोसिएट प्रोफेसर और एनसीसी अधिकारी और पिता कम्प्यूटर इंजीनियर हैं। प्रवर्तना की इस सफलता पर विद्यालय के माता-पिता, शिक्षकों और सहपाठियों ने बधाई दी है।

Related posts

Leave a Comment