कोरोना वायरस व प्रदूषण ने फिर लगाये स्कूल-कालेजों पर ताले

शि.वा.ब्यूरो, नई दिल्ली। राजधानी में कोरोना वायरस के रिकॉर्ड तोड़ नये मामले और अबोहवा के बुरी तरह दूषित होने को देखते हुए दिल्ली सरकार ने स्कूलों को अभी नहीं खोलने का फैसला किया है। उप मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने यह जानकारी दी। पिछले आदेश में 31 अक्‍टूबर तक स्‍कूल बंद किए गए थे। दिल्ली में कोरोना वायरस के मंगलवार को रिकार्ड 4853 नये मामले आए थे।
श्री सिसोदिया ने बताया कि अभिभावकों और बच्‍चों में डर है कि स्‍कूल खुलने पर संक्रमण बढ़ सकता है। उन्‍होंने कहा अधिकांश अध्यापकों और बच्चों के माता-पिता की राय है कि स्‍कूल अभी बंद ही रखे जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्‍ली के सभी सरकारी और निजी स्‍कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। उन्‍होंने कहा कि विश्वभर में जहां भी महामारी के बीच स्‍कूल खोले गए, वहां बच्‍चों में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा देखा गया । इसे देखते हुए सरकार का मानना है कि फिलहाल स्‍कूल खोलना ठीक नहीं रहेगा। पिछले कुछ सप्ताह से राजधानी की हवा भी लगातार जहरीली बनी हुई है। खराब सांस लेते-लेते अब लोगों के स्वास्थ्य पर उसका असर साफ नजर आने लगा है।

Related posts

Leave a Comment