श्रीराम कालेज ऑफ फार्मेसी मे नारी सशक्तिकरण विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय वैबीनार आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। श्रीराम ग्रुप ऑफ काॅलिजेज की इकाई श्रीराम कालेज आॅफ फार्मेसी मे नारी सशक्तिकरण विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय वैबीनार का आयोजन किया गया। यह बेबीनार योगी आदित्यनाथ द्वारा चलाये गये मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत आयोजित किया गया।
कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता ओरिऐन्टल कालेज ऑफ फार्मेसी भोपाल के प्रोफेसर एवं विभाग प्रमुख डाॅ0 सरिता करोले ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम का संचालन श्रीराम काॅलेज ऑफ फार्मेसी की सहायक प्रवक्ता छवि गुप्ता ने किया। नारी सशक्तिकरण पर आयोजित इस वेवीनार की थीम नारी एक रूप अनेक रही। बतौर मुख्यवक्ता सरिता करोले ने कहा कि नारी सशक्तिकरण का मतलब महिलाओ को उनके लिए निर्णय लेने मे सक्षम एवं सशक्त बनाना है। आधुनिक समाज में अशिक्षा एवं अन्य सामजिक कुरीतियों के कारण महिलाऐं समाज में अपने अधिकारों के प्रयोग के प्रति उदासीन हो गयी, फलतः महिलाओ की दशा खराब होती चली गयी। जैसे जैसे समय विकसित हुआ महिलाओ को अपनी शक्ति का एहसास हुआ। वहाॅ पर नारी सशक्तिकरण के लिए क्रान्ति की शुरूआत हुई।


श्रीराम कालेज ऑफ फार्मेसी की सहायक प्रवक्ता छवि गुप्ता ने कहा कि दुनिया भर की महिला आज जिस मुकाम पर है वहाॅ पहुॅचने के लिए उन्होने बहुत संघर्ष किया जबकि पश्चिमी देश अभी भी प्रगति कर रहे है और भारत जैसे देश भी नारी सशक्तिकरण मे पीछे नही है। श्रीराम कालेज के निदेशक डा0 गिरेन्द्र कुमार गौतम ने कहा कि नारी सशक्तिकरण एक उज्जवल समाज के लिए अति आवश्यक है। वर्तमान मे नारी समाज परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है और वह तीव्र गति से सशक्तिकरण की ओर बढ रहा है। अन्य वक्ता श्वेता पुण्डीर व शफकत जैदी ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि महिलाओ को सशक्त बनाने के विभिन्न तरीके है। नारी सशक्तिकरण के लिए व्यक्तियो और सरकार दोनो को साथ आना चाहिए, लडकिया के लिए शिक्षा अनिवार्य की जानी चाहिए ताकि महिलायें अपने लिए जीवन बनाने के लिए पढी लिखी और सुरक्षित बन सके। महिलाओ को हर क्षेत्र मे समान अवसर दिये जाने चाहिये। विभिन्न कार्यक्रम को आयोजित किया जाना चाहिए जहाॅ पर वे अपना कौशल सभी को दिखा सके और समाज मे एक नई पहचान भी बना सके।


नारी सशक्तिकरण की इस मुहिम के अंतर्गत एक जागरूकता अभियान भी चलाया गया जिसमें विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओ का आयोजन किया गया जिसमे ई-पोस्टर व रंगोली प्रतियोगिता एवं एक सेमिनार आयोजित की गयी। इस अवसर पर श्री राम ग्रुप ऑफ कालेजेज के चेयरमैन डाॅ0 एससी कुलश्रेष्ठ भी ऑनलाइन मौजूद रहे। उन्होने कहा कि नारी सशक्तिकरण के बारे मे जानने से पहले हमे यह भी समझ लेना चाहिए कि हम सशक्तिकरण से क्या समझते है उन्होने नारी सशक्तिकरण के बारे मे विस्तार से बताते हुए कहा कि सशक्तिकरण से तात्पर्य उस क्षमता से है जिससे उनमे यह योग्यता आ जाती है जिससे वह अपने जीवन से जुडे सभी निर्णय स्वयं ले सके। नारी सशक्तिकरण मे भी हम उसी क्षमता की बात कर रहे है जहाॅ महिलाऐ परिवार और समाज के सभी बंधनो से मुक्त होकर अपने निर्णयो की निर्माता स्वयं हो।
इस अवसर पर श्वेता पुंडीर, सोनू, टिंकू कुमार, रोहित मलिक, छवि गुप्ता, रोहिनी गुप्ता, विकास कुमार, अजय कुमार, सलमान, रोहिणी गुप्ता, उज्जवल शर्मा, शिवम त्यागी, आदि शिक्षकगण मौजूद रहे।

Related posts

Leave a Comment