शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय में मिशन शक्ति के तहत ऑनलाइन वेबीनार आयोजित 

शि.वा.ब्यूरो, मेरठ। शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय द्वारा उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना ‘मिशन शक्ति’ को कार्यान्वित करने के दृष्टिगत एक ऑनलाइन वेबीनार का आयोजन किया गया, जिसका संभावी उद्देश्य बालिकाओं और महिलाओं को सशक्त सम्माननीय और सुरक्षित बनाना है। आयोजित वेबीनार की मुख्य अतिथि मंडलायुक्त अनीता सी मेश्राम रहीं।
कार्यक्रम का उद्घाटन मां शारदे की वंदना से डॉ. अमर ज्योति ने किया। तत्पश्चात डॉ. अनीता गोस्वामी, सहायक प्रोफेसर-इतिहास ने सभी अतिथियों का औपचारिक स्वागत भाषण प्रस्तुत किया। मुख्य अतिथि अनीता सी. मेश्राम ने कहा कि सरकार महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण के सभी प्रयास कर रही है। महिलाओं के स्वास्थ्य, सुरक्षा और स्वावलंबन से संबंधित सभी स्तरों पर शासन की विभिन्न योजनाएं संचालित है, लेकिन इन योजनाओं का लाभ सही व्यक्ति तक पहुंचे तभी हमारे कार्यक्रम का उद्देश्य सार्थक होगा। कार्यक्रम में आमंत्रित वक्ता के तौर पर शालू अग्रवाल वरिष्ठ उप संपादक अमर उजाला ने मीडिया के द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए किए जा रहे प्रयासों पर चर्चा की। आपने अपने उद्बोधन में कहा की मीडिया ना केवल महिलाओं को रोजगार दे रहा है, वरन्  मीडिया के माध्यम से शासन की सभी योजनाओं की जानकारी लोगों तक पहुंच रही हैं। महिलाओं के हुनर को दुनियां में फैलाने का काम भी मीडिया कर रहा है।
वरिष्ठ अधिवक्ता डॉ निशा तायल ने महिला हिंसा के विभिन्न रूपों की चर्चा करते हुए भारतीय कानून में उनके लिए क्या-क्या प्रावधान किए गए हैं उनकी चर्चा की। वरिष्ठ समाजसेवी और संकल्प संस्था की अध्यक्ष डॉ. अतुल शर्मा ने महिला सशक्तिकरण में स्वयंसेवी संस्थाओं की भूमिका पर विशेषकर चर्चा की। आपने महिलाओं के लिए सरकार द्वारा जारी विभिन्न हेल्पलाइन और उनकी कार्यप्रणाली से परिचय कराया। समाजशास्त्री और एसोसिएट प्रोफेसर डॉ अनीता बाजपेई ने समाज में महिलाओं की वास्तविक स्थिति, उनके सशक्तिकरण के लिए हो रहे प्रयास और उनकी समस्याओं पर गहन चर्चा की और जोर दिया कि हम अपने विचार और व्यवहार में परिवर्तन के द्वारा ही महिलाओं को सशक्त बना सकते हैं। इस संदर्भ में समाज को विशेष तौर पर जागरूक होने की जरूरत है। विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित रहे डॉ. राजीव कुमार गुप्ता, क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी मेरठ और सहारनपुर मंडल  ने सरकार के मिशन शक्ति पर व्यापक चर्चा की और इस संदर्भ में सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए महाविद्यालयों को आगामी दिवसों में प्रभावी रूप से कार्य करने के लिए कहा। प्रो. रेखा रानी तिवारी प्राचार्य, राजकीय महाविद्यालय, खरखौदा ने मिशन शक्ति कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए महिलाओं और बच्चियों तक इसके लाभ को पहुंचाने के प्रयासों पर जोर दिया। प्रो. दिनेश चंद्र, महाविद्यालय प्राचार्य और मिशन शक्ति के नोडल अधिकारी, जनपद- मेरठ  ने आयोजित वेबिनार की सफलता पर हर्ष जताते हुए सभी को विश्वास दिलाया की आगामी समय में महाविद्यालय के द्वारा मिशन शक्ति को प्रभावी बनाने के लिए सभी संभव तरीकों से प्रयास किए जाएंगे और शासन की महत्वपूर्ण योजना को कार्यान्वित करने के लिए हम सभी प्रतिबद्ध हैं।
कार्यक्रम के अंत में डॉ स्वर्णलता कदम, कार्यक्रम अधिकारी, एनएसएस इकाई प्रथम ने छात्रों और अभिभावकों को मिशन शक्ति के संदर्भ में शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई बालिका सुरक्षा की शपथ ऑनलाइन दिलाई। वेबिनार संयोजक डा. लता कुमार ने आगामी आयोजनों की संक्षिप्त रुपरेखा प्रस्तुत करते हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का आयोजन जूम एप पर किया गया जिसे  यूट्यूब के माध्यम से विद्यार्थियों, अभिभावकों और प्राध्यापकों के द्वारा देखा गया। जिसमें लगभग 250  विद्यार्थियों, अभिभावकों और प्राध्यापकों की प्रतिभागिता रही। कार्यक्रम का संयोजन और संचालन मिशन शक्ति अभियान की महाविद्यालय कोऑर्डिनेटर लैफ्टि. (डा.) लता कुमार ने किया।आयोजन में मिशन शक्ति सह संयोजक डॉ. अनुजा रानी गर्ग, रेंजर्स प्रभारी, समिति सदस्यों डॉ. डॉ मंजू रानी, कार्यक्रम अधिकारी एनएसएस इकाई द्वितीय, डॉ भारती शर्मा विभाग प्रभारी शारीरिक शिक्षा, डॉ पूनम भंडारी शारीरिक शिक्षा विभाग, डॉ जितेंद्र बालियान शारीरिक शिक्षा विभाग, डॉ. ममता सागर (कला संकाय), डॉ. अमर ज्योति (बी.एड. संकाय), डॉ. सत्यपाल सिंह राणा (विज्ञान संकाय), डॉ. विकास कुमार ( वाणिज्य संकाय) तथा महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों और कर्मचारियों ने अमूल्य योगदान दिया।

Related posts

Leave a Comment