नंदकुमार बघेल की गिरफ्तारी को लोकतंत्र की हत्या बताया

भिक्खु धम्मतप, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ भिक्खु संघ के मुख्य संयोजक भिक्खु धम्मतप, राजनांदगांव ने छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल की गिरफ्तारी को लोकतंत्र की हत्या बताते हुए इस कृत्य की कड़ी निन्दा की है।

छत्तीसगढ़ भिक्खु संघ के मुख्य संयोजक भिक्खु धम्मतप राजनांदगांव ने कहा कि वायरल वीडियों को ‘सामाजिक द्वेष फैलाने‘ का आधार बनाकर जातिवाद से ग्रसित कुछ तथाकथित ब्राम्हण समाज के लोगों ने 2 सितम्बर को नंदकुमार बघेल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवायी थी और पुलिस ने भी बिना जांच किये ही  इतिहास सम्मत तथ्यों को नजरअंदाज कर कुछ तथाकथित ब्राम्हण समाज के लोगों के प्रभाव में आकर एफआईआर दर्ज कर 86 साल के बुजुर्ग नंदकुमार बघेल को गैर-जमानती धारा 505 (1) बी, 153-ए के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा है। इस कृत्य की कड़ी निन्दा करते हुए छत्तीसगढ़ भिक्खु संघ के मुख्य संयोजक भिक्खु धम्मतप राजनांदगांव ने कहा कि भारतीय संविधान हर भारतीय को वाक्य अभिव्यक्ति की आजादी देता है, नंदकुमार बघेल की गिरफ्तारी से लोकतंत्र की हत्या हुई है। उन्होंने कहा कि एक तरफ बघेल की गिरफ्तारी से एससी, एसटी, ओबीसी एवं अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को एवं निष्पक्ष आवाजों को भयभीत करने के उद्देश्य से एक बहुत बड़ा षड़यंत्र ब्राम्हणों द्वारा रचा जा रहा है।

Related posts

Leave a Comment