शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय में छह दिवसीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम ‘आयुध’ का शुभारंभ

शि.वा.ब्यूरो, मेरठ। ‘मिशन शक्ति’ अभियान के अंतर्गत आज 19 अक्टूबर को शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय की तरफ से छात्राओं और बालिकाओं की सुरक्षा हेतु छह दिवसीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम ‘आयुध’ का शुभारंभ किया गया। अभियान का उद्घाटन महाविद्यालय प्राचार्य प्रो. दिनेश चन्द ने ‘मिशन शक्ति’ अभियान के अंतर्गत छात्राओं की समस्याओं को एक पटल पर लाने हेतु निर्मित ईमेल को लांच किया।
इस अवसर पर प्राचार्य प्रो. दिनेश चन्द ने कहा कि अब कोई भी छात्रा मिशन शक्ति की ईमेल पर अपनी समस्या गोपनीय रुप से भी प्रेषित कर सकती है, जिसका निवारण करने का प्रयास समिति के सदस्यों द्वारा प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। कहा कि ईमेल महाविद्यालय नोटिस बोर्ड के साथ व्हाट्सएप ग्रुप, महाविद्यालय फेसबुक पेज और वेबसाइट पर भी उपलब्ध रहेगी। आत्मरक्षा अभियान के अंतर्गत शोतोकाई इंटरनेशनल कराटे फेडरेशन से सिहान सिराज अहमद ने एनसीसी कैडट्स व छात्राओं को कराटे की आधारभूत जानकारी दी और अभ्यास कराया, जिसका सीखा प्रसारण महाविद्यालय पेज पर किया गया, ताकि अधिकाधिक छात्रा इसका लाभ उठा सकें।
कार्यक्रम का संयोजन व संचालन समिति संयोजक डा. लता कुमार ने किया। डा. सत्यपाल सिंह राणा और पूनम भंडारी ने सहयोग किया। महिला सशक्तिकरण हेतु आयोजित व्याख्यान श्रृंखला के अंतर्गत ‘महिलाओं का स्वास्थ्य एवं पोषण’ विषय पर एक व्याख्यान का आयोजन किया गया, जिसमें डा. निकी डबास, सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता और पोषण विज्ञानी, पोषण और प्राकृतिक स्वास्थ्य विज्ञान एसोसिएशन दिल्ली विश्वविद्यालय मुख्य वक्ता रहीं। डा. डबास ने महिलाओं की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं और पोषण के संदर्भ में फैले विविध मिथकों को भी दूर करने का प्रयास किया और छात्राओं को अपने पोषण और स्वास्थ्य हेतु अपने आसपास के भोज्य पदार्थों को ही वरीयता देने का संदेश दिया। महाविद्यालय प्राचार्य प्रो. दिनेश चन्द ने अधिकाधिक छात्राओं को अभियान से जोड़ने की अपील की। वेबिनार का आयोजन गूगल मीट पर किया गया, जिसका सजीव प्रसारण फेसबुक के माध्यम से किया गया। आयोजन में समस्त महाविद्यालय परिवार सम्मिलित हुआ।

Related posts

Leave a Comment