नवरात्रि के चौथे दिन डा.मिली भाटिया आर्टिस्ट ने 9 कन्याओं को नई फ्रॉक व महिला को नई साड़ी भेंट की

शि.वा.ब्यूरो, रावतभाटा (राजस्थान)। नवरात्रि के चौथे दिन डा.मिली भाटिया आर्टिस्ट ने 9 कन्याओं को नई फ्रॉक व महिला को नई साड़ी भेंट करके सुकून महसूस किया।
उन्होंने बताया कि बकरी चराने वाली नन्ही कन्याओं को नवरात्रि पर आलिया, अनु, वर्षा, किरन, सुनीता, मीना, रेखा, कुसुम, कविता को नये वस्त्र भेंट किए। नई फ्रॉक पाकर सभी कन्याओं के चेहरे खिल उठे। कन्याओं ने कहा कि वो दीपावली पर यही फ्रॉक पहनकर खुशियां मनायेंगी। डॉक्टर मिली ने कन्याओं को शिक्षा का महत्व बताते हुए उन्हें स्कूल जाने के लिए प्रेरित भी किया। जानकारों के अनुसार डॉक्टर मिली ने एक अनुकरणीय उदाहरण देते हुए समाज को एक संदेश दिया है कि अमीरों की भरे पेट वाली कन्याओं को उनकी जी-हुजूरी करके नवरात्रि पर खाना खिलाने के बजाय जरूरतमंद कन्याओं को भोजन, वस्त्र, चप्पलें आदि भेंट करना अधिक सही है।
बता दें कि डॉक्टर मिली हर नवरात्रि पर जरूरतमंद 11 कन्याओं को नये वस्त्र वितरित करती हैं। डॉक्टर मिली ने कहा कि करोना काल में घर पर आस-पड़ोस की अमीर कन्याओं को भोजन करवाने के बजाय हर सक्षम परिवार जरूरतमंद 9 कन्याओं को भोजन भोजन करवाये। उन्होंने कहा कि उनके जीवनसाथी आनंद यादव इस नेक काम में हमेशा सहयोग रहते हैं, इतना ही नहीं डॉक्टर मिली की नन्हीं लिली भी मम्मी और नाना दिलीप भाटिया की तरह अच्छे काम करना चाहती है।

Related posts

Leave a Comment