क्षेत्र में मिलावटी दूध की बिक्री जोरों पर

शि.वा.ब्यूरो, खतौली। क्षेत्र में मिलावटी दूध की बिक्री जोरों पर है, परंतु स्वास्थ्य विभाग चुप बैठा है। गर्मी के मौसम के कारण दूध की बढ़ी मांग के बाद शहर व आस पास के इलाको में मिलावटी व नकली दूध की बिक्री ने जोर पकड़ लिया होता है। घरों में दूध की सप्लाई करने वाले दुधियों पानी की मिलावट के अलावा सिंथैटिक दूध की सप्लाई धड़ल्ले के साथ कर रहे हैं।
जानकारों की माने तो दूधिया दूध के नाम पर लोगो को सफ़ेद जहर परोस रहे हैं, लेकिन सम्भन्धित विभाग सब कुछ जानकर अनजान बन कर अवैध उगाही में लगा हुआ है। हालाँकि सरकार ने मिलावटखोरी रोकने के लिए सख्त कानून बना रखा हैं, लेकिन यह गैर कानूनी मिलावट खोरी बन्द नही हो रही है, इससे यह साबित हो रहा हैं कि सम्बंधित अफसरों और मिलावटखोरो के बीच अवैध लेन- देन जारी है, जिससे मिलावटखोरो के अन्दर डर नाम की कोई चीज नही रह गयी हैं। त्योहार व शादियों की आहट होते ही मिलावटखोरो की चांदी हो जाती हैं।
बता दें कि शहर के चारो ओर से दुधिया दूध लेकर बिक्री करने आते हैं और अफसरों तक को भी ये मिलावटी दूध देकर जाते हैं, लेकिन वे भी इसके खिलाफ बोल नही पाते हैं, यदि किसी ने कुछ कहा भी तो तुरन्त बिना किसी डर दबाव के वह कहते हैं कि पिछला हिसाब मेरा अभी कर दो और कल से किसी और से दूध ले लेना। ऐसी हालत में सभी हालतों से समझौता करने पर मजबूर हैं। अक्सर देखा जाता है कि नहरो व नलो में भी दुधिया लोग अपनी मोटरसाइकिल व साईकिल खडी करके पानी मिलाते हैं। सम्बंधित अधिकारी भी त्यौहार पर इधर उधर छापा मारकर वाहवाही लूटने का काम करते हैं, जबकि असलियत में मिलावटखोरो से बंधा-बंधाया उन तक पहुँचता रहता है।

Related posts

Leave a Comment