जिलाधिकारी ने कोविड कैम्प एवं क्वांरटाइन सैन्टर में व्यवस्थाओं का किया निरीक्षण


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने आज जानसठ के ग्राम मेहलकी मे बनाये गये क्वारन्टीन सैन्टर व कोविड कैम्प का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। इसके पूर्व उन्होने ग्राम चांदपुर तगायान, ब्लाॅक शाहपुर में कोविड कैम्प सैन्टर व डोर टू डोर सर्वे कर रही टीम के साथ संवाद कर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। उन्होने विकास खण्ड खतौली के ग्राम मंसूरपुर में कोरोना लक्षण जिसमें बुखार, खासी एवं होम आईसोलेट व्यक्तियों व परिवारों के साथ संवाद स्थापित करते हुए उनको दी जा रही सुविधाओं, दवाईयों व अन्य व्यवस्थाओं के बारे के जानकारी प्राप्त की।

उन्होने उपस्थित टीम ko निर्देश दिये कि दी जा रही दवाईयों की किट में दवाईयों के उपयोग की जानकारी दी जाये। जिनका आॅक्सीजन स्तर कम आ रहा है, उसकी सूचना तत्काल दी जाये। इसके किसी भी प्रकारी की लापरवाही न बरती जाये। जिलाधिकारी ने इसके पश्चात ग्राम मुस्तफाबाद व ग्राम मेहलकी में लगाये गये कोविड कैम्प का निरीक्षण कर सम्बन्घित अधिकारियों व चिकित्सकों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये।

उन्होने कहा कि टीम को प्रत्येक संसाधन जैसे मास्क, सैनेटाईजर, गलब्स, किट, पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया जाये। उन्होने कहा कि जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 रोग के प्रति सजगता, संभावित रोगियों के चिन्हीकरण तथा लक्षण युक्त व्यक्तियों की जांच एवं आवश्यकता अनुसार औषधि वितरण किया जाये। जन सामान्य को जागरूक करने के साथ कोविड-19 रोग के निकटवर्ती जांच एवं उपचार केंद्रों के विषय में जानकारी देंगे, इसके साथ ही ऐसे लक्षण युक्त व्यक्तियों जिन्हें बुखार, खांसी इत्यादि के साथ सांस फूलने जैसे लक्षण प्रकट हो रहे हैं, परंतु जिनकी अभी तक जांच नहीं हुई है तथा वे अपने निकटवर्ती स्वास्थ्य केंद्र पर जाने में सक्षम भी नहीं है या अकेले रहने वाले वृद्ध व्यक्ति ,ऐसे लोगों को वह टीम घर पर ही जाकर दवाइयों का वितरण करेगी।


इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, सम्बन्धित एसडीएम सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थि थे।

 

Related posts

Leave a Comment