संरक्षण के जरूरतमंद नाबालिग की पहचान उजागर करना निषेध

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला प्रोबेशन अधिकारी मौहम्मद मुशफेकीन ने बताया है कि 18 वर्ष से कम आयु के किसी भी देखरेख एवं संरक्षण के जरूरतमंद बच्चे की फोटो या वीडियो प्रकाशित अथवा प्रसारित करना या बच्चे की पहचान उजागर करना किशोर न्याय अधिनियम के प्राविधानों के अंतर्गत निषेध है और इसके लिए दोषी को सजा भी हो सकती है।
जिला प्रोबेशन अधिकारी मौहम्मद मुशफेकीन ने कहा है कि ऐसे किसी भी बच्चें की पहचान को गुप्त रखा जाये, उसे उजागर करने का प्रयास किसी के भी द्वारा नहीं किया जाना चाहिए, अन्यथा सम्बन्धित के खिलाफ किशोर न्याय अधिनियम के प्राविधानों के अंतर्गत कार्यवाही भी की जा सकती है।

Related posts

Leave a Comment