जिलाधिकारी ने आॅक्सीजन प्लाॅंन्ट्स स्वामियों एवं आॅक्सीजन गैस विक्रेताओं व ट्रेडर्स के साथ की बैठक, निर्धारित प्रारूप पर सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने आज कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु मेडिकल आॅक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चत कराये के लिए जनपद के आॅक्सीजन प्लाॅन्ट व रिफलिंग प्लाॅन्ट के स्वामियों, विक्रेताओं व ट्रेडर्स के साथ जिला पंचायत सभागार में आवश्यक बैठक आहूत की।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत कोरोना संक्रमित मरीजोें हेतु आॅक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चत कराने के लिए आक्सीजन उत्पादन तथा आॅक्सीजन गैस फिलिंग किये जाने वाले उद्योगों तथा आक्सीजन की ट्रेडिंग कम्पनियों को एक सिस्टम बनाने की आवश्यकता है, ताकि सिलेंडर की आपूर्ति एवं उसकी सप्लाई पर नजर रखी जा सके। उन्होने निर्देश दिये कि प्रत्येक दशा में आॅक्सीजन की आपूर्ति मेडिकल सेवाओं के लिए की जाये।

उन्होने निर्देश दिये कि आॅक्सीजन प्लाॅन्ट व रिफलिंग प्लाॅन्ट के स्वामी, विक्रेता व ट्रेडर्स आॅक्सीजन सिलेडर की सूची उपलब्ध कराये। सभी सिलेडर पर अपना कोई मार्क सुनिश्चत करे, ताकि निगरानी करने में आसानी हो सके। उन्होने कहा कि एक रजिस्टर बनाया जाये, जिस पर सिलेडर ले जाने वाले की डिटेल उपलब्ध हो। उसे प्रशासन के साथ शेयर किया जाये, ताकि प्रशासन ऐसे लोगों केा चिन्हित कर सके, जो आवश्यता न होने पर भी सिलेडर अपने पास रखे हुए है और जो कि किसी दूसरे मरीज के जीवन के लिए काम आ सकता है। उन्होंने कहा कि जारी सिलेडर का डाटा बेस बनाया जाये। उन्होने कहा कि ऐसी व्यवस्था बनाई जाये कि आॅक्सीजन लेने वाला व्यक्ति सीधे प्लांट पर न जाकर ट्रेडर के पास से आवश्यक प्रपत्र दिखाकर सिलेंडर प्राप्त कर सके। इस व्यवस्था से एक ओर जहां आॅक्सीजन सिलेंडर मिलने का मार्ग सुगम होगा, साथ ही पीडित व्यक्ति को समय पर आॅक्सीजन उपलब्ध हो सकेगी और न ही अनावश्यक भीड एक स्थान पर एकत्र होगी। उन्होने निर्देश दिये कि किसी भी दशा मेे मेडिकल सुविधा में आॅक्सीजन अवरूद्व न होने पाये।


उन्होने बताया कि आॅक्सीजन आपूर्ति पर सत्त निगरानी रखते हुए आक्सीजन आडिट हेतु अधिकारियों की तैनाती भी पूर्व में की जा चुकी है। उन्होने औषधि निरीक्षक को निर्देश दिये कि प्रतिदिन की कार्यवाही सम्पन्न करते हुए निर्धारित प्रारूप पर सूचना प्रत्येक दशा में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, सीएमओ एमएस फौजदार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, डीडीसी चकबन्दी सहित आॅक्सीजन गैस प्लाॅन्ट व रिफलिंग प्लाॅन्ट के स्वामी, विक्रेता व ट्रेडर्स सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

Leave a Comment